विश्व क्रिकेट पर भारत का दबदबा है और वह जो कहेगा, वो करेगा। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी का यह मानना है। शाहीद अफरीदी का कहना है कि विश्व क्रिकेट पर भारत का काफी बड़ा असर है, क्योंकि भारत में इस खेल के लिए सबसे बड़ा बाजार है। यह बातें शाहिद अफरीदी ने हाल ही में खत्म हुए आईपीएल और उसके ढाई महीने के सफर के बारे में बातचीत के दौरान कही हैं।

शाहीद अफरीदी का मानना है कि आईपीएल के कारण अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के साथ-साथ पाकिस्तान एफटीपी कार्यक्रम पर भी इसका असर पड़ता है। विश्व के कई खिलाड़ी अपने देश के बजाय आईपीएल में खेलना पसंद करते हैं। ऐसे खिलाड़ी, जिसे अपने बोर्ड से किसी भी लीग में खेलने की छूट मिली होती है। ये खिलाड़ी फ्री एजेंट होते हैं।

शाहिद अफरीदी

Also Read : Cricket World : क्रिकेट जगत के ये तीन कप्तान, जिनकी किस्मत ने मैदान पर बिल्कुल नहीं दिया साथ

भारत इस समय क्रिकेट के लिए सबसे बड़ा बाजार : शाहिद अफरीदी

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने कहा है कि ‘लीग जितने समय तक भारत में होता है इतने लंबे समय तक भारत का दबदबा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पर रहता है। उन्होंने कहा कि इससे बाजार और अर्थव्यवस्था को फायदा होता है।’ शाहिद अफरीदी ने कहा कि ‘भारत इस समय क्रिकेट के लिए सबसे बड़ा बाजार है और वह जो कहेगा वही होगा।’

शाहिद अफरीदी ने आगे का है कि ‘यह सब बाजार और अर्थव्यवस्था का खेल है क्रिकेट का सबसे बड़ा बाजार भारत में है। वह जो भी कहेंगे वही होगा।’ हाल ही में बीसीसीआई ने इंडियन प्रीमियर लीग के अगले पांच साल के मीडिया राइट्स लगभग 6.2 बिलीयन डॉलर में बेचने में कामयाबी हासिल की है। इससे आईपीएल विश्व की दूसरी सबसे बड़ी क्रिकेट लीग बन चुका है। डिजनी स्टार ने भारतीय उपमहाद्वीप में टीवी अधिकारों के लिए 23,575 करोड़ रुपये, जबकि वायकॉम 18 ने उसी क्षेत्र के लिए डिजिटल अधिकार और तीन वैश्विक क्षेत्र ऑस्ट्रेलिया+न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका और यूके में प्रसारण अधिकार 23,758 करोड़ रुपए में खेरीदे हैं।

पिछले 5 वर्षों 2018 से 2022 तक के सौदों की तुलना में 2023 से लेकर 2027 तक का सौदा लगभग 3 गुना अधिक है। उस समय 5 वर्षों के लिएआईपीएल के मीडिया राइट्स 16,347.5 करोड़ रुपए में बेचे गये थे। उस समय प्रति सीजन 60 मैच होते थे, जबकि नए सौदे में प्रत्येक सीजन के लिए अलग-अलग मैचों की लिस्ट बनाई गई है। 2023 और 2024 में 74 मैच होंगे, जबकि 2025 और 2026 में 84 मैच खेले जाएंगे। इस डील के अंतिम वर्ष यानी 2027 में सबसे ज्यादा 94 मैच का आयोजन किया जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.