0Shares

न्यूज़ डेस्क: जिन लोगों ने अभी अभी या कुछ जिनका पहले से दानपुर-बिहटा रोड में ज़मीन में अपना निवेश किया है या तो करने वाले हैं उनके लिए बहुत अच्छी खबर है, बता दें कि पटना से बिहटा जाना अब बेहद आसान हो जाएगा. अब चंद मिनटों में लोग पटना से बिहटा पहुंच सकेंगे. दरअसल दानापुर-बिहटा-कोईलवर फोरलेन सड़क का निर्माण जल्द ही शुरू होने वाला है. जिसके कारण इस रूट में जिनका ज़मीन है उसका रेट डबल होने की उम्मीद जताई जा रही है। करीब 26 किलोमीटर लंबी बनने वाली सड़क के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के द्वारा टेंडर की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है.

3737.51 करोड़ की लागत से बनने वाले 25 .8 किलोमीटर दानापुर-बिहटा-कोइलवर सड़क के निर्माण की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है और जल्द ही इसका निर्माण कार्य भी शुरू कर दिया जाएगा. एनएचआई के द्वारा इस सड़क के लिए निविदा निकाली गई है.

इस योजना एक अंतर्गत दानापुर से बिहटा तक लगभग 21 किमी एलिवेटेड सड़क का निर्माण करना है और बाकी के बचे लंबाई पर फोरलेन सड़क का निर्माण किया जाना है. इसमें शिवाला से बिहटा के बीच वर्तमान सड़क से चार जगहों पर नेऊरागंज, पैनाल, कन्हौली और विशनपुरा में बाईपास /रि-एलाईनमेंट का प्रावधान किया गया है. पटना से बिहटा एयरपोर्ट जाने के लिए इस सड़क पर एटग्रेड लिंक रोड का भी प्रावधान किया गया है. पटना से आने वाले वाहनों को बिहटा एयरपोर्ट जाने के लिए एक टनेल के माध्यम से गुजरने का प्रावधान किया गया है.

पटना से सगुना मोड़ की तरफ से आने वाले वाहनों को इस एलिवेटेड पथ पर पहुंचने के लिए द्वितीय स्तर के रैम्प से जोड़ने का प्रावधान किया गया है, साथ ही बिहटा से कोईलवर के बीच एक अन्डरपास और चार बड़े सेतु का निर्माण कार्य किया जायेगा. दानापुर-बिहटा-कोइलवर योजना बिहार के लिए घोषित प्रधानमंत्री पैकेज, 2015 का भाग है. इस परियोजना के लिए दानापुर से बिहटा के बीच एलिवेटेड सड़क निर्माण के लिए भूमि के अधिग्रहण बिहार सरकार के द्वारा किया गया, जिस पर कुल 456 करोड़ रुपए खर्च हुए. सड़क निर्माण के लिए दानापुर स्थित रेलवे जमीन के बदले रेलवे को बिहार सरकार द्वारा दूसरी भूमि पटना स्थित हार्डिंग पार्क में उपलब्ध करायी जा रही है.

बिहार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने कहा कि यह योजना पटना-बक्सर सड़क परियोजना का भाग है. कोइलवर से बक्सर तक फोरलेन सड़क का निर्माण कार्य लगभग अंतिम चरण में है, जिसे दिसम्बर 2022 तक पूर्ण करने का लक्ष्य है. दानापुर से कोइलवर तक एलिवेटेड/एटग्रेड सड़क का निर्माण निविदा निष्पादन के शीघ्र बाद प्रारम्भ होगा, जो अगले ढ़ाई वर्ष में पूर्ण होगा. इसके निर्माण से पटना से बक्सर होकर पूर्वांचल एक्सप्रेस वे तक पहुंचने का मार्ग सुलभ होगा. निर्माण के उपरान्त निर्माण एजेंसी द्वारा ही इसका अगले 10 वर्षो तक रख-रखाव सुनिश्चित किया जायेगा.

Sorce: News18

Leave a comment

Your email address will not be published.