0Shares

Electricity Generation In Bihar : बिहार में स्थित एनटीपीसी की परियोजनाओं से अनुमान से अधिक बिजली का उत्पादन हुआ है। बताया जा रहा है कि इस बार रिकॉर्ड तोड़ बिजली का उत्पादन किया गया है। साथ ही पूर्वी क्षेत्र-1 की कुल 8 इकाइयों से वित्तीय वर्ष 2022- 23 की पहली तिमाही में 17 हजार 671 मिलियन यूनिट बिजली का उत्पादन हुआ है। इनमें एनटीपीसी के ज्वाइंट वेंचर्स और संयुक्त कंपनियां भी शामिल है। मिली जानकारी के अनुसार वित्तीय वर्ष 2021-22 की तुलना में हुए उत्पादन से यह 30.48 प्रतिशत से भी अधिक है। साथ ही यह अब तक का सर्वाधिक बिजली उत्पादन है।

Electricity Generation In Bihar

Also Read : बिहार के कैमूर में लगेगा अनोखा पावर प्लांट, दिन मे सौर ऊर्जा और रात में पानी से मिलेगी बिजली

Electricity Generation In Bihar : बिहार से 5000 मेगावाट से अधिक बिजली की आपूर्ति

बता दें कि एनटीपीसी पूर्वी क्षेत्र- एक के तहत बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल में स्थित कुल आठ बिजली घर हैं, जिनकी उत्पादन क्षमता 10 हजार 510 मेगावाट है। वहीं, 3,720 मेगावाट क्षमता की यूनिट निर्माणाधीन हैं। इस संबंध में एनटीपीसी के प्रवक्ता विश्वनाथ चंदन ने कहा कि बिहार में एनटीपीसी संयंत्रों से कुल 6,030 मेगावाट का बिजली आवंटन है, जिसमें से 5,428 मेगावाट की आपूर्ति एनटीपीसी के पूर्वी क्षेत्र- एक के बिजली उत्पादन संयंत्रों से ही की जा रही है।

एनटीपीसी बाढ़ और नबीनगर का बेहतर प्रदर्शन
पूर्वी क्षेत्र- एक के विद्युत संयंत्रों से उत्पादित बिजली ने बिहार की विद्युत आवश्यकताओं को पूरा करने के साथ ही अन्य राज्यों की जरूरतें पूरी करने में भी योगदान दिया है। बिहार में सबसे अच्छा प्रदर्शन एनटीपीसी की बाढ़ यूनिट और औरंगाबाद जिले स्थित एनपीजीसी नबीनगर का है। वर्तमान में एनटीपीसी समूह के पास 78 बिजली स्टेशनों के साथ 69 हजार 134 मेगावाट से अधिक की स्थापित क्षमता है, जिसमें 34 नवीकरणीय परियोजनाएं शामिल हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.