सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक ने यूजर्स को सख्त चेतावनी जारी किया है. बुधवार को कहा गया कि ऐसे लोगों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी, जो बार-बार Facebook प्लेटफॉर्म से भ्रामक जानकारियां फैला रहे हैं. फेसबुक ने इस प्लेटफार्म पर लगातार भ्रामक खबरों से हो रही आलोचना को देखते हुए यह कड़ा कदम उठाया है.

सोशल मीडिया जगत की दिग्गज कंपनी Facebook ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि अगर Facebook एकाउंट से एक से ज्यादा बार गलत जानकारी साझा की गई है और इसे हमारी Facebook की फैक्ट चेक टीम ने पकड़ लिया, तो ऐसे Facebook एकाउंट के पोस्ट को न्यूज फीड में हटा दिया जाएगा. इसके साथ ही इस तरह के पोस्ट के प्रसार को कम कर दिया जाएगा. इस दिशा में Facebook नये टूल पर काम कर रही है, जो लोगों तक सही कंटेंट पहुंचाने में मदद करेगा.

महामारी में सोशल मीडिया फेक न्यूज का बाढ़!

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक COVID-19 महामारी के दौरान सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे Facebook, Twitter झूठे दावों और भ्रामक जानकारियों का प्रचार-प्रसार बढ़ा है. हालांकि Facebook का दावा है कि कोविड-19, वैक्सीनेशन, जलवायु परिवर्तन और चुनाव से जुड़ी झूठी खबरों को रोकने की दिशा में तेजी से काम कर रही है. Facebook के मुताबिक पिछले साल अक्टूबर से दिसंबर के दौरान करीब 1.3 बिलिनय फर्जी फेसबुक एकाउंट को ब्लॉक किया गया है.

ये भी पढ़ेंः बिहार में ‘यास’ तूफान से कोहराम का खतरा, हाई अलर्ट जारी

बता दें कि केंद्र सरकार ने फर्जी और भ्रामक खबरों के फैलाव को रोकने के मकसद से नये आईटी नियमों को लाया है, जिसे सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को मानना होगा. इस मामले में Facebook ने कहा है कि वह आइटी नियमों के प्रावधानों का पालन करेगा और कुछ मुद्दों पर बातचीत चल रही है.

Leave a comment

Cancel reply

Your email address will not be published.