पटना. वीआरएस लेकर राजनीति में आए बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय को विधानसभा चुनाव में जेडीयू ने टिकट नहीं दिया गया है. वहीं, बिहार की बक्सर सीट से भारतीय जनता पार्टी ने अपने उम्मीदवार के तौर पर परशुराम चतुर्वेदी के नाम की घोषणा कर दी.

जिसके बाद टिकट के प्रबल दावेदार गुप्तेश्वर पांडेय के चुनाव लड़ने की संभावनाएं भी खत्म हो गई. इसके बाद ही गुप्तेश्वर पांडेय ने फेसबुक पर एक पोस्ट किया है. बता दें कि कुछ दिन पहले ही बिहार के पूर्व पुलिस अधिकारी ने नौकरी से स्‍वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेकर जदयू का दामन थामा था.

गुप्‍तेश्‍वर पांडेय ने किया पोस्‍ट
गुप्‍तेश्‍वर पांडेय ने फेसबुक पर पोस्‍ट लिखा, ‘अपने अनेक शुभचिंतकों के फ़ोन से परेशान हूं. मैं उनकी चिंता और परेशानी भी समझता हूं. मेरे सेवामुक्त होने के बाद सबको उम्मीद थी कि मैं चुनाव लड़ूंगा,

लेकिन मैं इस बार विधानसभा का चुनाव नहीं लड़ रहा. हताश निराश होने की कोई बात नहीं है. धीरज रखें. मेरा जीवन संघर्ष में ही बीता है. मैं जीवन भर जनता की सेवा में रहूंगा. कृपया धीरज रखें और मुझे फ़ोन न करें.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

बिहार की जनता को मेरा जीवन समर्पित है. अपनी जन्मभूमि बक्सर की धरती और वहां के सभी जाति मज़हब के सभी बड़े-छोटे भाई-बहनों माताओं और नौजवानों को मेरा पैर छू कर प्रणाम! अपना प्यार और आशीर्वाद बनाए रखें!’

ये भी पढ़ें.कोरोना काल में चुनाव आयोग ने जारी किए दिशा निर्देश, पार्टी के स्टार प्रचारकों की संख्या में की भारी कटौती

धैर्य धारण करने की अपील की
गुप्‍तेश्‍वर पांडेय चाह रहे थे कि वह बक्सर सीट से विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे, लेकिन यह सीट बीजेपी के खाते में थी. ऐसे में गुप्तेश्वर पांडेय की मुश्किलें लगातार बढ़ रही थीं और नामांकन के अंतिम दिन बक्सर सीट से बीजेपी के खाते से परशुराम चतुर्वेदी के नाम का ऐलान कर दिया गया. पांडेय को लेकर कयास लगाए जा रहे थे

कि उनको जेडीयू वाल्मीकि नगर लोकसभा क्षेत्र से उपचुनाव लड़ाएगी, लेकिन वहां से भी गुप्तेश्वर पांडेय को पार्टी ने टिकट नहीं दिया है. इसको लेकर सोशल मीडिया पर तरह-तरह की बातें चल रही हैं. गुप्तेश्वर पांडेय ने इस घटना के बाद एक पोस्ट लिखा है और अपने शुभचिंतकों से धैर्य धारण करने की अपील की है.
Get Today’s City News Updates

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *