पटनाः बिहार विधानसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन के बाद जदयू सामाजिक समीकरण को साधने में लगी है. जदयू लव-कुश समीकरण के बाद सवर्ण वोटरों को एकजुट कर अपने साथ जोड़ने की कवायद में जुट गई है. आज पटना स्थित पार्टी कार्यालय के कर्पूरी सभागार में सवर्ण मिलन समारोह का आयोजन किया गया. जिसमें जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने सवर्णों को पार्टी में जोड़ा.

जदयू से जुड़ने के बाद सवर्ण समाज के लोगों ने कहा कि जदयू पहली ऐसी पार्टी है जिसने सवर्ण प्रकोष्ठ का गठन कर के हम सबों की समस्या की सुना गया है. राष्ट्रीय अध्यक्ष से निवेदन करेंगे कि हमलोगों की खोई हुई पहचान को वापस दिलाया जाए. उन्होंने कहा कि सवर्णों के एक एक खून का कतरा जदयू के नाम है.

अगड़े नेताओं को जोड़ रहे आरसीपी

दरअसल, बीजेपी के बाद जदयू की नजर भी सवर्ण वोट बैंक पर विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद जदयू लगातार मिलन समारोह कर लोगों को जोड़ने में जुटी है. जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष खुद कार्यक्रमों की अध्यक्षता करते है. आगामी चुनाव को ध्यान में रख कर जदयू अभी से ही तैयारियो में जुटी है.

ये भी पढ़ेंः मुश्किल में लालू के बड़े लाल! तेज प्रताप यादव की विधायकी को चुनौती देने वाली याचिका पर पटना हाईकोर्ट ने जारी किया नोटिस

इस बार पार्टी हर समुदायों के वोट बैंक पर जदयू की नजर है. यहीं, कारण है कि जदयू ने सवर्ण प्रकोष्ठ के गठन कर सवर्णों को भी पार्टी में शामिल कर लिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here