औरंगाबाद: पटना से औरंगाबाद पहुंची निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की टीम ने एक बड़ी कार्रवाई की है. गोह थानाध्यक्ष मनोज कुमार को 30 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा. इस कार्रवाई को निगरानी की टीम ने गोह थाने में ही छापेमारी कर अंजाम दिया.

इसके बाद ही निगरानी के अधिकारी,थानाध्यक्ष को उसके कॉलर से पकड़कर घसीटते हुए अपनी गाड़ी तक ले जाने लगे.इस दौरान थाने के पास लोगों की भीड़ जमा हो गई. इसी बीच देखने वालों में कुछ लोगों ने थानाध्यक्ष को दो-दो हाथ भी लगा दिए. निगरानी के अधिकारियों ने लोगों को फटकार लगाई और थानेदार को गाड़ी बैठा दिया.

30 हजार रुपए महीने की मांग की थी

कुछ दिन पहले थानाध्यक्ष ने गिट्‌टी लोड हाइवा पार करवाने के लिए 30 हजार रुपए महीने की मांग की थी. इसके बाद ही गिट्‌टी कारोबारी ने निगरानी में इस बात की शिकायत कर दी. मुख्यालय के आदेश पर आरोपों की जांच और पूरे मामले की पड़ताल के लिए एक स्पेशल टीम बनाई गई.

रंगेहाथ पकड़ा गया थानाध्यक्ष 

गुरुवार को गोह थाने में निगरानी द्वारा पूरा जाल बिछाया गया. इसके बाद जैसे ही शिकायत करने वाला शख्स वहां 30 हजार रुपए लेकर वहां पहुंचा और मनोज कुमार ने उससे पैसे लिए, वैसे ही निगरानी कि टीम वहां पहुंच गई और थानाध्यक्ष को लिया रंगेहाथ पकड़ लिया.

लोगों में फैला आक्रोश 

बताया जा रहा है कि घटना के बाद स्थानीय लोगों में काफी आक्रोश है. लोगों का कहना है कि एक साल पहले गोह थाने में मनोज कुमार की पोस्टिंग हुई थी. आरोप है कि थानाध्यक्ष लगातार हाइवे से गुजरने वाले भाड़ी वाहनों से अवैध वसूली करता था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here