पटनाः बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर जनता दल यूनाइटेड ने अपनी रणनीति में बदलाव किया है. जेडीयू ने सबसे पहले आरजेडी और महागठबंधन में सेंध लगाते हुए पूर्व सीएम जीतन राम मांझी सरीखे बड़े नेताओं को अपने पाले में किया. जबकि उपेंद्र कुशवाहा की भी नीतीश से नजदीकियां बढ़ रही है. वहीं, अब पूर्व डीजीपी को सीएण नीतीश कुमार ने जेडीयू की सदस्यता दिलाई है.

रिटायरमेंट से पांच महीने पहले वीआरएस लेने वाले पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय आज आकिरकार जेडीयू में शामिल हो गए है. मुख्यमंत्री सीएम नीतीश कुमार ने खुद उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई है. इस दौरान भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी, सांसद ललन सिंह, विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी समेत अन्य जेडीयू नेता मौके पर मौजूद रहे.

गुप्तेश्वर पांडे थामेंगे नीतीश का हाथ

बता दें कि सीएम नीतीश कुमार से एक दिन पहले ही उनकी जेडीयू ऑफिस में मुलाकात हुई थी. इस दौरान पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा था, ” मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ मैं काम किया हूँ, मैं सेवा निवृत्त हो गया हूं, ऐसे में उनको धन्यवाद देने आया था. उनसे चुनाव को लेकर कोई बात नहीं हुई और मैंने अभी कुछ भी तय नहीं किया है. तय करूंगा तो बताऊंगा.”आगामी विधानसभा चुनाव में गुप्तेश्वर पांडेय जेडीयू की ओर से चुनाव भी लड़ सकते हैं.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *