पटना: आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव चारा घोटाला माले में जेल की सजा काट रहे हैं. हालांकि, उनकी तबीयत बिगड़ने पर उन्हें मीनवीय आधार पर बेल देने की मांग जोड़ पकड़ रही है. उनके बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने एक मुहिम चलाई है इस मुहिम में लालू यादव की रिहाई की मांग की जा रही हैं. पोस्ट कार्ड के माध्यम से राष्ट्रपति महोदय को पत्र भेजे जा रहे हैं.

हजारों की संख्या में पत्र लिखा गया है और आज पटना जीपीओ से पत्र भेजा जाएगा. इस संदर्भ में बात करते हुए आरजेडी छात्र संघ के अध्यक्ष आकाश यादव ने कहा कि इस पत्र के माध्यम से राष्ट्रपति महोदय से लालू यादव की रिहाई की मांग की जा रही है.

AIIMS में चल रहा है राजद सुप्रीमो का इलाज 

हालांकि इस लेटर में किसी पार्टी का नाम नहीं दिया गया है केवल व्यक्ति का नाम है और राष्ट्रपति महोदय से मांग की गई है कि लालू यादव की उम्र तकरीबन 80 साल हो गई है और इस उम्र में तमाम बीमारियाँ उन्हें परेशान कर रही है. AIIMS में उनका इलाज भी चल रहा है.

25 जनवरी से चलाई जा रही है मुहिम 

बता दें कि बीते दिनों राजद सुप्रीमो लालू यादव कि तबीयत खराब होने कि वजह से उन्हें रांची रिम्स से दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था.उसी को लेकर 25 जनवरी तेज प्रताप यादव के द्वारा यह मुहिम चलाई जा रही है,जिसमें वे लोगों से आग्रह कर रहे हैं कि वे ज्यादा से ज्यादा संख्या में राष्ट्रपति को पत्र लिखें.

ये भी पढ़ें:तेजप्रताप के लिखे ‘आजादी पत्र’ में गलतियों से सोशल मीडिया में उड़ा मजाक, जानिए पूरा माजरा

तेजप्रताप ने की थी पत्र में गलतियाँ

बता दें कि तेजप्रताप यादव ने पिता की रिहाई के लिए सोशल मीडिया में कैंपेन के बाद अब नई मुहिम शुरू की थी. इसके तहत राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को पोस्टकार्ड पर पत्र लिखा गया, जिसे ‘आजादी पत्र’ नाम दिया गया.लालू प्रसाद यादव की रिहाई की मांग को लेकर राष्ट्रपति को लिखे पत्र में तेज प्रताप ऐसी गलतियाँ की थी कि सोशल मीडिया पर उनका खूब मजाक बनाया गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here