पटना: नीतीश कुमार इन दिनों बीजेपी के साथ-साथ दूसरे संगठनों के निशाने पर अप्रत्यक्ष या सीधे निशाने पर हैं. आज बीजेपी ऑफिस के बाहर नीतीश कुमार ‘मुर्दाबाद’ के नारे जमकर लगाए गए हैं. हिंदू पुत्र संगठन के कार्यकर्ताओं ने जम कर बवाल काटा है.

हिंदू पुत्र संगठन के कार्यकर्ता 21 दिसंबर 2019 को RJD बंद के दौरान एक मुस्लिम युवक की ईंट से हत्या के आरोपी नागेश सम्राट की रिहाई को लेकर जमकर नारेबाजी की है. सैंकड़ों की संख्या में बीजेपी ऑफिस के बाहर पहुंचे नागेश के समर्थकों का आरोप है कि नागेश मिश्रा को साजिश के तहत मामले में फंसाया गया है.

मुस्लिम युवक के हत्या का है आरोपी

जेल में बंद हिंदू पुत्र संगठन का कार्यकर्ता नागेश सम्राट पर फुलवारीशरीफ के रहनेवाले एक मुस्लिम युवक आमिर हंसला की हत्या का आरोप है. सीएए के खिलाफ बुलाए गए आरजेडी के बंद के दौरान उसकी हत्या कर दी गई थी. इस मामले में पुलिस ने हिंदूवादी संगठनों से जुड़े लोगों समेत 6 लोगों को गिरफ्तार किया था.

ये भी पढ़ेंः बीजेपी से नीतीश के बगड़े रिश्ते के बीच कांग्रेस ने दिया बड़ा ऑफर

फुलवारी में हुई थी हत्या

बता दें कि आमिर की हत्या 21 दिसंबर 2019 को हुई थी और 10 दिन बाद शव बरामद हुआ था. पटना की फुलवारी पुलिस ने इस मामले में हिंदू पुत्र संगठन के नागेश सम्राट और हिंदू समाज संगठन के कार्यकर्ता विकास कुमार को आरोपी बनाया था. आमिर हंसला बैग बनाने की एक प्राइवेट कंपनी में काम करता था.

मृतक के शरीर पर थे कटे के निशान

पुलिस ने बताया था कि आमिर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ईंट और नुकीली चीजों से वार कर आमिर की हत्या की गई थी. मृतक के सिर में चोट और शरीर पर भी कटे के निशान मिले थे. जबकि अंदरूनी ब्लीडिंग के कारण उसके पेट में ब्लड क्लॉट कर गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here