बिहार के औरंगाबाद में घर से अवैध शराब का धंधा कर रही एक महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पता चला है कि इस महिला का पति जेल में है और पीछे से ये महिला अवैध शराब का धंधा कर रही थी। गुप्त सूचना के आधार पर अभियान चला कर पुलिस ने एक घर में छपा मार कर 88 बोतल देसी शराब बरामद की है। पूरी घटना कुटुंबा थाना क्षेत्र की है।

गिरफ्तार महिला मानमती देवी कुटुंबा के पश्चिम बाजार मोहल्ला निवासी मिथिलेश राम की पत्नी है। पति पहले ही शराब बेचने के आरोप में जेल में है। पुलिस का कहना है कि सूचना के आधार पर छापेमारी कर महिला तस्कर को गिरफ्तार किया गया है। उसके घर के एक कमरे में छुपा कर रखी गई झारखंड निर्मित तीन सौ एमएल की 88 बोतल देसी शराब बरामद हुई है।

अवैध शराब

घर से अवैध शराब बरामद होने के बाद महिला तस्कर को गिरफ्तार

घर से अवैध शराब बरामद होने के बाद महिला तस्कर को गिरफ्तार कर थाने लाया गया और उसके खिलाफ बिहार राज्य संशोधित उत्पाद अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर उसे रिमांड के लिए कोर्ट भेज दिया गया। विदित हो कि उक्त महिला लंबे समय से शराब कारोबार से जुड़ी है। पहले भी पुलिस ने उसके घर से शराब बरामद की थी। उसका पति मिथिलेश राम शराब बेचने के आरोप में पहले ही जेल जा चुका है। थानाध्यक्ष ने बताया कि शराब तस्करों एवं शराबियों के विरुद्ध लगातार छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है।

उधर, अंबा थाना पुलिस ने भी रविवार की रात शराब के विरुद्ध छापेमारी कर बाइक पर ले जायी जा रही शराब की खेप के साथ दो तस्करों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार तस्करों की पहचान पड़ोसी राज्य झारखंड के पलामू जिला अंतर्गत हरिहरगंज थानाक्षेत्र के पिंटू कुमार एवं विशाल कुमार के रूप में हुई है। पुलिस ने तस्करों के पास से एक बैग बरामद किया है। पुलिस ने जब बाइक की तलाशी ली तो, उसमें छिपाकर रखी गई झारखंड निर्मित 300 एमएल की 50 बोतल देसी शराब बरामद हुई है। थानाध्यक्ष नरेंद्र कुमार ने बताया कि गुप्त सूचना थी कि बाइक सवार तस्कर झारखंड की ओर से शराब की खेप लेकर एनएच 139 सड़क से औरंगाबाद जाने वाले है, जिसके आधार पर एरका चेकपोस्ट की जांच के दौरान इन दोनों तस्करों को शराब के साथ गिरफ्तार किया गया।

Leave a comment

Your email address will not be published.