अक्षर पटेल ने 7 टेस्ट पारियों में 32 विकेट झटकने वाले अपनी इस सफलता का राज खोला। अक्षर के अनुसार अभी उन्हें टी-20 का विशेषज्ञ नहीं कहा जाना चाहिए। बाएं हाथ के इस स्पिनर ने न्यूजीलैंड के खिलाफ कानपूर में खेले जा रहेपहले टेस्ट की पहली पारी में 62 रन देते हुए पांच विकेट अपने नाम किये, जिससे भारतीय टीम ने इस मैच में वापसी करने में सफल रही। अक्षर ने 7 पारियों में 5वीं बार 5 विकेट झटकने का कारनामा अपने नाम किया। उन्होंने स्पिनरों की मददगार करने वाले इस पिच पर गेंदबाजी की हो, लेकिन यह किसी अकल्पनीय कल्पना की उपलब्धि की तरह है।

स्वयं को हमेशा से साबित करने की कोशिश करी
अक्षर पटेल ने आगे बात करते हुए बताया की जब भी उन्होंने प्रथम श्रेणी मैच या भारत ए के लिए खेला हूं। तब मैंने अपने प्रदर्शन को और अच्छा करने की कोशिश करी है। मैंने अपने आपको कभी भी सफेद गेंद यानि की सीमित ओवर के प्रारूप के विशेषज्ञ के रूप में नहीं देखा। यह सब बातें तो अपने ही दिमाग में होती है कि आप स्वयं को क्या समझते हैं। एक सफेद गेंद विशेषज्ञ या लाल गेंद का विशेषज्ञ ये अपने आप पर ही निर्भर होता है। . मुझे हमेशा से यह विश्वास था, जब भी मुझे मौका मिलेगा तो मैं अच्छा प्रदर्शन करने की कोशिश करूंग।