पटनाः बिहार विधानसभा में राज्य के डिप्टी सीएम और वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने 2021-22 का बजट पेश किया है. 17 वीं विधानसभा में नीतीश सरकार का यह पहला बजट है. बजट के दौरान विपक्षी पार्टी के नेताओं ने जमकर हंगामा भी किया. हालांकि, वित्त मंत्री ने बिहार के विकास का खाका सदन में रखा है. इस दौरान वित्त मंत्री शायर बन शुरूआत और अंत में भी शायरी कहते नजर आये.

बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री ने घोषणा करते हुए कहा कि उच्च शिक्षा के लिए अविवाहित लड़कियों को 25 हजार और स्नातक उत्तीर्ण होने पर महिलाओं को 50 हजार की आर्थिक सहायता दी जायेगी. इसके अलावा सरकार के द्वारा महिलाओं को सरकारी नौकरी में 35 फीसदी आरक्षण. सरकारी आफिस में आरक्षण के अनुरूप संख्या बढ़ाई जाएगी.

ये भी पढ़ेंः बिहार विधानसभा में शायर बन गए तारकिशोर प्रसाद, पेश किया 2 लाख 18 हजार 502 करोड़ का बजट

वहीं, आईटीआई और पोलटेक्निक को आधुनिक बनाया जाएगा. नेटवर्किंग, आईटी समेत कई ट्रेड में ट्रेनिंग दी जाएगी. वहीं, हर जिले में मेगा ट्रेनिंग सेंटर बनाए जाएंगे. इनमें रोजगारोन्मुखी स्कील की ट्रेनिंग दी जाएगी. हर प्रमंडल में टूल रूम और  ट्रेनिंग सेंटर की स्थापना की जायेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here