कुंभ ड्यूटी में तैनात जवान का शव ताबूत की जगह बिस्तर बंद में भेजा घर, सड़ी-गली अवस्था में…

0
12

कुंभ मेले में ड्यूटी के दौरान मृत मिले कांस्टेबल गणेश नाथ का पार्थिव शरीर मंगलवार को बागेश्वर स्थित गरुड़ पहुंचा. जवान का शव (पार्थिव शरीर) को ताबूत के बजाय बिस्तर बंद में लाया गया, जिसकी वजह से मृतक के पत्नी, बच्चे और अन्य परिजन अंतिम दर्शन तक नहीं कर पाए. पार्थिव देह को बिस्तर बंद में लाए जाने पर उत्तराखंड पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं.

विकास खंड के रामपुर गांव निवासी कांस्टेबल गणेश नाथ (34) की तैनाती नैनीताल जिले में थी. 13 मार्च को हरिद्वार कुंभ में ड्यूटी लगी थी. बैरक के बजाय वो एक होटल में रह रहे थे. 28 मार्च को गणेश का शव होटल के बाहर उनकी कार से बरामद किया गया. वहींं मंगलवार को उत्तराखंड पुलिस जवान गणेश के शव को ताबूत के बजाय बिस्तर बंद में लेकर उनके घर पहुंची.

लोगों का फूटा गुस्सा

बताया जा रहा है शव के सड़ी-गली अवस्था में होने की वजह से पत्नी पुष्पा देवी और बच्चे अपने पिता के अंतिम दर्शन तक नहीं कर पाए. इससे नाराज ग्रामीणों का गुस्सा फुट पड़ा. उत्तराखंड पुलिस और उत्तराखंड सरकार की कार्य प्रणाली पर सवाल उठाने शुरू कर दिए.

 पत्नी और बच्चों के साथ गणेश ( फाइल फोटो)

हालांकि, कुछ लोगों के समझाने के बाद माहौल शांत हुआ. बाद में थानाध्यक्ष बैजनाथ पंकज जोशी की मौजूदगी में जवान को गार्ड आफ ऑनर दिया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here