दरभंगाः बिहार विधानसभा चुनाव के बीच एमएलसी का भी चुनाव हो रहा है. जदयू इस बार कई नेताओं विधानसभा में टिकट काट रही है. वहीं, एक पूर्व एमएलसी ने पार्टी के खिलाफ जाकर नामांकन किया है. पूर्व एमएलसी विनोद चौधरी ने पार्टी में रहते हुए आज निर्दलीय नामांकन किया.

नामांकन कराने के बाद जदयू नेता ने अपने ही सरकार के विकास की पोल खोला. उन्होंने आरोप लगाया कि पार्टी में मुझे सम्मान नहीं मिला और जहां सम्मान नहीं मिले वहां रह कर क्या फायदा? पार्टी मुझे निष्कासित करे.जदयू नेता ने नीतीश सरकार पर हमला करते हुए कहा कि विकास का ढिंढोरा पिटती है, 6 महीना से मैं लगातार अपने फेसबुक, ट्विटर के माध्यम से सरकार की विकास का पोल खोल रहा हूं और अब अपनी बेटी पुष्पम प्रिया के पुलरल्स पार्टी को खुल कर समर्थन करुंगा और मैं अपनी बेटी को बिहार का मुख्यमंत्री बनते देखना चाहता हूँ.

ये भी पढ़ेंः पुष्पम प्रिया चौधरी ने जारी की पहले चरण के उम्मीदवारों की लिस्ट, जाति, धर्म के कॉलम में ये लिखा

शराब बंदी बिहार में ढकोसला

विनोद चौधरी का आरोप है कि मैं विधान परिषद का सदस्य भी रहा उसके बावजूद मुझे सम्मान नहीं दिया गया, मुझको बस असम्मानित किया गया. उन्होंने कहा कि निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर नामांकन किया है. पार्टी से मुझे कोई मतलब नहीं है.

जदयू नेता ने बिहार सरकार के शराब बंदी ढकोसला बताया है. अब तो जाने की जरूरत नहीं पड़ती है, घर पर शराब की डिलीवरी होती है. बिजली पानी का स्थिति आप खुद देख सकते हैं.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

नामांकन दाखिल करते विनोद चौधरी
नामांकन दाखिल करते विनोद चौधरी

बेटी पुष्पम प्रिया को दिया समर्थन

बता दें कि चौधरी की बेटी पुष्पम प्रिया ने खुद को सीएम कैंडिडेट घोषित किया है. जो पटना के बांकिपुर सीट से चुनाव लड़ेंगी इसके अलावा मधुबनी के विस्फी सीट से भी किस्मत आजमायेगी. जदयू नेता ने कहा कि पुष्पम प्रिया बिहार में सरकार बनाए यही मेरी इच्छा है और उसके लिए जो मेरी शक्ति है, उस शक्ति भर में अब खुलकर उसका काम करूंगा. जदयू नेता ने अपनी बेटी पुष्पम प्रिया को सीएम बनते हुए देखने की इच्छा जाहिर की.

Get Daily City News Updates

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *