पटनाः जेडीयू के हरिवंश नारायण सिंह फिर से राज्यसभा के उपसभापति चुने गए हैं. यह दूसरा मौका है जब वो इस पद के लिए निर्वाचित हुए हैं. उन्होंने आरजेडी के मनोज झा को वोटिंग में हराया है. हरिवंश नारायण सिंह को जनता दल (यूनाइटेड) ने 2014 में राज्यसभा में भेजा था. हालांकि पहली बार 2018 में राज्यसभा के उपसभापति बने थे. हरिप्रसाद को 125-105 से हराया था. इस तरह वो राज्यसभा में 1952 के बाद तीसरे गैर कांग्रेसी उपसभापति बने.

हरिवंश नारायण सिंह के उपरी सदन की सदस्यता का कार्यकाल अप्रैल 2020 में खत्म हो गया, जिससे ये उप सभापति का पद खाली हो गया. जेडीयू से वो दूसरी बार भी चुनकर राज्यसभा में भेजे गए. बता दें कि चुनाव में वो इस पद के सबसे मजबूत उम्मीदवार थे. माना जा रहा था एनडीए फिर उन्हें उम्मीदवार बनाएगा. ऐसा ही हुआ. राज्यसभा में दलीय स्थिति के मद्देनजर उनकी स्थिति यूपीए के साझा उम्मीदवार मनोज झा से मजबूत थी.

हरिवंश नारायण सिंह(फाइल फोटो)
हरिवंश नारायण सिंह(फाइल फोटो)

मीडिया जगत का लंबा अनुभव

बता दें कि जेडीयू सांसद सियासत में पारी शुरू करने से पहले कई दशक तक मीडिया में अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज करा चुके हैं. उनकी पहचान निर्भीक पत्रकार और दमदार संपादक के तौर होती है. उन्होंने ग्रामीण पत्रकारिता से लेकर चारा घोटाला को सबसे पहले अखबार में उजागर किया. वहीं, पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के अतिरिक्त मीडिया सलाहकार के तौर पर काम कर चुके हैं.

Get Daily City News Updates

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *