गया: बिहार में क्राइम को लेकर नीतीश सरकार सवालिया घेरे में हैं. राजधानी में रुपेश हत्याकांड और कृषि पदाधिकारी की हत्या से पुलिस के कार्यशैली पर सवाल खड़े हो रहे हैं. वहीं, गड़ती कानून व्यवस्था को लेकर जारी विवाद के बीच रविवार को गया निवासी जदयू प्रवक्ता चंदन यादव ने सीएम नीतीश और डीजीपी को पत्र लिखा है.

पत्र में जेडीयू जिले के चंदौती थाना प्रभारी और नगर अंचालधिकारी पर भूमि विवाद का निपटारा नहीं करने का आरोप लगाया है. उन्होंने आरोप लगाया कि चंदौती थाना प्रभारी और नगर अंचालधिकारी जनता की बात ना सुनकर भू-माफियओं के संरक्षण दे रहे हैं.

थाना प्रभारी कि लापरवाही 

जदयू प्रवक्ता चंदन यादव का कहना है कि थाना प्रभारी और नगर अंचालधिकारी सीएम की महत्वकांक्षी योजनाओं के कार्यान्वयन के दौरान भूमि विवाद के निपटारे में रुचि नहीं दिखा रहे. इन मामलों का निटारा सीओ और थाना के अधिकारियों को प्राथमिकता के आधार पर करना चाहिए. लेकिन, चंदौती थाना प्रभारी मोहन प्रसाद सिंह ने इस काम में लापरवाही बरती है. इसकी एसएसपी आदित्य कुमार को भी दी गई है. साथ ही सीएम नीतीश कुमार और डीजीपी को भी पत्र भेजकर इसकी जानकारी दी गई है.

ये भी पढ़ेंः बिहार में अपराधियों का तांडव! एक सप्ताह से लापता प्रखंड कृषि अधिकारी का शव मिलने से सनसनी

जमीन पर भूमाफियाओं का कब्जा 

जानकारी के मुताबिक कटारी हिल रोड स्थित 2 एकड़ जमीन पर भू-माफियाओं ने कब्जा कर लिया है. इसकी  सूचना चंदौती थाना प्रभारी को दी गई तो उन्होंने टालमटोल करते हुए मामले में कार्रवाई नहीं की. लापरवाही की वजह से माफियाओं ने जमीन पर बाउंड्री करा कर उस पर कब्जा कर लिया. इस मामले में थाना प्रभारी ने चुप्पी साधी हुई है. इस बात से नाराज जेडीयू प्रवक्ता ने सीएम नीतीश और डीजीपी को पत्र लिखा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here