जहानाबादः बिहार में जब एक बार कोई एमएलए बन जाए तो अगले पीढ़ी को सेट करने में जुट जाता है. राज्य में कई फैमली है जो फिलहाल सियासत में सक्रिय है. कई नेताओं की तीसरी-चौथी पीढ़ी राजनीति कर रही है. इसी क्रम में पूर्व सीएम जीतन राम मांझी पूर्व सीएम जीतन राम मांझी इस बार विधानसभा चुनाव में अपने परिजनों को सुरक्षित सीट से लड़ाने के लिए तैयार हैं. मांझी अपने पुराने निर्वाचन क्षेत्र से दामाद को चुनाव लड़ाने की तैयारी में हैं.

पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी इमामगंज से पहले जहानाबाद के मखदुमपुर सुरक्षित सीट से चुनाव जीत चुके हैं. हालांकि, 2015 के विधानसभा सीट से उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. इस सीट से इस बार अपने दामाद को चुनाव में उतारने जा रहे हैं. मांझी ने मखदुमपुर के एक निजी हॉल में हम पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक किया. वहीं, मीटिंग के बाद पत्रकारों से बातचीत में कहा कि वे चाहते हैं कि मखदुमपुर से उनके परिवार का सदस्य चुनाव लड़े, इसलिए वो अपने दामाद देवेंद्र मांझी को चुनाव लड़ना चाहते हैं.

मांझी का बढ़ सकता है कद

पूर्व सीए ने दामाद के चुनाव लड़ाने को लेकर सफाई देते नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर कटाक्ष किया. उन्होंने कहा कि जब 8वीं और 9वीं पास लोग आगे बढ़ सकते हैं तो इंजीनियरिंग पास को आगे बढ़ाने में क्या दिक्कत है? क्या उसको परिवारवाद कहा जायेगा?  इस दौरान 2020 में जीतन राम मांझी ने अपने कद के बढ़ने यानि राज्यपाल या मंत्री बनने की ओर भी इशारा किया.

Get Daily City News Updates

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *