कैमूर: रामगढ़ के राजद विधायक सुधाकर सिंह की यूपी पुलिस के सामने एक नहीं चली.बुधवार को उनके नेतृत्व में मोहनिया पहुंचे उड़ीसा के सैकड़ों किसानों के जत्था को पैदल मार्च करने से रोक दिया गया.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

दरअसल बिहार यूपी बॉर्डर पर किसानों ने पैदल मार्च कर यूपी में जैसे ही प्रवेश किया तो यूपी पुलिस ने उन्हें रोक दिया.यूपी में धारा 144 लगने का हवाला देते हुए पैदल मार्च को रोका गया.

हालांकि राजद विधायक फिर भी नहीं माने और पुलिस से उलझने लगे.लेकिन उनकी हेकड़ी नहीं चली और योगी आदित्यनाथ की यूपी पुलिस ने उन्हें सैकड़ों समर्थकों समेत वापस बिहार भेज दिया.
यूपी पुलिस ने सभी लोगों को गाड़ियों में बैठकर अपने गंतव्य दिल्ली जाने के लिए बार-बार आग्रह किया गया,लेकिन राजद विधायक और उनके समर्थक पैदल मार्च करने पर अड़ गए.

लेकिन, यूपी पुलिस ने बात नहीं मानी तो विधायक ने सड़क जाम करने की धमकी दी.इस पर पुलिस भड़क गई और अपने तेवर कड़े कर लिए.फिर रामगढ़ के विधायक सहित सभी बिहार से आए समर्थकों को वापस बिहार लौट जाने की चेतावनी दी.

बेरंग वापस लौटे विधायक 

लेकिन विधायक नहीं माने और साथ के लोगों के साथ मिलकर सड़क को जाम कर वहीं पर नारेबाजी करनी शुरू कर दी.
इस पर यूपी पुलिस ने कड़ा रुख अपनाते हुए उन सभी को वहां से हटवाया और उड़ीसा से दिल्ली के लिए निकले किसानों का जत्था को गाड़ियों में बैठकर दिल्ली भेज दिया गया और इसके बाद राजद विधायक को अपने कार्यकर्ताओं के साथ यूपी की सीमा से बेरंग बिहार वापस लौटना पड़ा.

Get Daily News Update in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here