चिराग के खिलाफ थाने पहुंचे बागी केशव ने नीतीश सरकार से लगाई जान की गुहार, धमकी दिलवाने का आरोप

0
11
chiragpaswan

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव में हार के बाद एलजेपी में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में एलजेपी ने महासचिव केशव सिंह को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखला दिया गया. वहीं, केशव सिंह ने एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान पर नक्‍सलियों से संबंध रखने का आरोप लगाया है.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

केशव सिंह का कहना है कि पार्टी में लोकतंत्र की मांग करने पर चिराग ने उन्‍हें धमकी भी दिलवाई थी. वहीं, पूर्व एलजेपी नेता ने चिराग के खिलाफ पटना के शास्‍त्रीनगर थाना में हत्‍या की धमकी दिलाने के आरोप में एफआइआर दर्ज कराई है. एफआईआर में केशव ने चिराग पासवान पर नक्‍सलियों से संबंध रखने का भी गंभीर आरोप लगाया हैं साथ ही सरकार से इस मामले की जांच कराने की भी मांग की है.

चिराग पर कई गंभीर आरोप

बता दें कि केशव सिंह एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान के खिलाफ केस दर्ज कराने पटना के शास्त्रीनगर थाना पहुँचे. लेकिन उन्हें थाने से बैरंग लौटना पड़ा, क्योंकि पुलिस ने केस लिखने से मना कर दिया. हालाँकि बाद में वरीय अधिकारीयों के निर्देश पर उनका आवेदन लिया गया है. आवेदन में केशव सिंह ने कहा है कि हमारे जान माल को जो भी नुकसान होगा. उसकी पूरी जिम्मेदारी लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान और अमर आजाद की होगी.

‘नक्सलियों से चिराग के संबंध’

आवेदन में कहा गया है कि अमर आजाद नामक एक व्यक्ति ने चिराग पासवान के कहने पर उन्‍हें धमकी दी थी. यह धमकी उन्‍हें एलजेपी में प्रजातंत्र की बात उठाने पर दी गई थी. जिसके बाद पार्टी से बाहर कर दिया गया. केशव ने इस पूरे घटनाक्रम में चिराग पासवान के हाथ होने का आरोप लगाया है. वहीं, पूर्व लोजपा नेता केशव सिंह ने कहा कि चिराग पासवान के नक्सलियों से सम्बन्ध हैं और चुनाव जीतने के लिए चिराग पासवान ने नक्सलियों से मुलाकात भी की थी.

Get Today’s City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here