कुवैत के एक फैसले ने मुस्लिम देशों को हैरान कर दिया है अधिकतर मुस्लिम देशों में महिलाओं को सेना में शामिल होने पर प्रतिबंध है ऐसे में कुवैत की सेना ने मंगलवार को कहा कि महिलाएं अब लड़ाकू भूमिकाओं में सेना में शामिल हो सकती हैं।महिलाएं अब सेना में युद्धक भूमिकाओं में भी शामिल हो सकती हैं।

कुवैत के रक्षा मंत्री ने बयान देते हुए बताया कि कुवैती महिलाओं के लिए अपने भाइयों के साथ कुवैती सेना में शामिल होने का समय आ गया है। दुनिया में अनेक देशों ने कुवैत के इस फैसले का स्वागत किया है जो कि यह महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करता है।

अफगानिस्तान में तालिबान के आने के बाद देश में महिलाओं की आजादी कीा मुद्दा प्रमुख रूप से उठ रहा है. ऐसे में कुवैत का महिलाओं को सेना में शामिल होने की आजादी देना बेहद ही सराहनीय कदम है. कुवैत ने महिलाओं के लिए कई अलग-अलग युद्ध अधिकारी रैंक में शामिल होने का द्वार खोल दिया गया है।

कुवैत लगातार धीरे-धीरे महिलाओं पर लगे प्रतिबंध हटा रहा है. कुवैत में महिलाओं को वोट देने और संसद में भाग लेने का अधिकार पहले ही दे दिया था।

Leave a comment

Your email address will not be published.