कोविड-19 महामारी से बचाने के लिए डॉक्टर, इंजीनियर, पुलिसकर्मी, सरकार समेत पूरी दुनिया के लोग प्रयासरत हैं. ऐसे भागलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज के इलेक्ट्रॉनिक्स एंड टेलीकम्यूनिकेशन ब्रांच के सेकेंड इयर के छात्र गौरव कुमार ने कमाल किया है. लखीसराय जिले के बड़हिया निवासी गौरव कुमार ने मोबाइल, चार्जर, घड़ी समेत दूसरे छोटे उपकरणों को कोरोना समेत दूसरे वायरस वैक्टिरिया से संक्रमण मुक्त करने के एक इलेक्ट्रॉनिक्स डिवाइस का निर्माण किया है. इस डिवाइस का नाम कोविड-19 डिफेंडर रखा गया है.

गौरव का कहना है कि घर के छोटे-मोटे समान को इस डिवाइस में रखने के बाद कोरोना नष्ट हो जाता है. इस उपकरण में अल्ट्रावायलेट किरण निकलने वाले लैंप को लगाया गया है. वहीं इसमें कोरोना संक्रमित उपकरण की सतह को 40-45 डिग्री सेल्सियस तक गर्म करने के लिए हीटर व फैन भी लगाया गया है. गौरव के मुताबिक इस कोविड-19 डिफेंडर को व्यवसायिक प्रयोग के लिए भागलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज की ओर से इंडियन मेडिकल रिसर्च काउंसिल भेजा जाएगा.

गौरव ने बताया कि विश्व स्वास्थ संगठन की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना वायरस का साइज 0.4-0.02 माइक्रोन के आसपार का होता है. वायरस का बाहरी सतह काफी कमजोर होता है जो 40 डिग्री सेल्सियस तापमान में नष्ट हो जाता है. ऐसे में अल्ट्रावायलेट किरण के प्रहार से भी इसका जीवन समाप्त हो जाएगा, इस वैज्ञानिक पहलू को ध्यान मे रखकर इस उपकरण का निर्माण किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here