लखीसराय: जिले के तेतरहट थाना क्षेत्र के एक गांव में 3 दरिंदे 15 साल की एक बच्ची पर कहर बनकर टूट पड़े. तीनों ने बच्ची को कमरे में 17 घंटे तक बंधक बनाकर रखा और बारी-बारी से रेप किया. नाबालिग के विरोध करने पर उसके साथ बुरी तरह से मारपीट की.

वह चीखती-चिल्लाती रही, लेकिन हैवानों को उस पर जरा भी रहम नहीं आया. जाते-जाते हैवानों ने किसी से बताने पर पूरे परिवार के साथ जान से मारने की धमकी दी. इस मामले में लखीसराय महिला थाने में केस दर्ज कराया गया है. महिला थाना अध्यक्ष रीता कुमारी का कहना है कि पीड़िता की मेडिकल जांच कराई गई है. पुलिस सभी 3 आरोपियों की गिरफ्तारी की कोशिश कर रही है.

सुबह-सुबह दबंगो ने नाबालिग को उठाया

बताया जा रहा है कि पीड़िता बुधवार को शौच के लिए सुबह के 5 बजे अपने घर से निकली थी. इसी का फायदा उठाकर गांव के दी तीन दबंग एक बोरिंग के पास नीतीश सिंह, चंदन सिंह और रामानुज सिंह ने पकड़ लिया. इसके बाद मुंह बंद कर पास के एक मकान में ले गए जहां, एक कमरे में रात 10 बजे तक उसे बंधक बनाए रखा. इस दौरान तीनों ने पीड़िता के साथ गैंगरेप किया.

दुष्कर्म के दौरान मारपीट

नाबालिग दुष्कर्म करने का विरोध की जिस पर खूब मारा-पीटा भी. पीड़िता के चेहरे पर जख्म के निशान हैं. दरिंदो ने पीड़िता को रात के 10 बजे छोड़ा जिसके बाद वो सीधे घर पहुंच कर परिजनों से सारी बात बताई. थाने में रामजी सिंह के पुत्र नीतीश सिंह, सीमा सिंह के पुत्र चंदन सिंह और बदन सिंह के पुत्र रामानुज सिंह के खिलाफ केस दर्ज हुआ है.

दबंग परिवार से हैं आरोपी

3 इलाके के दबंग हैं जिसकी वजह से घरवाले दहशत में हैं. परिजनों ने आरोप लगाया है कि पीड़िता को तीनों ने रेप की घटना बताने पर पूरे परिवार वालों को जान से मारने की धमकी दी थी. बता दें कि पीड़िता काफी गरीब परिवार से है. पीड़िता के पिता साधारण किसान हैं. फिलहाल तीनों आरोपित फरार है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here