एलजेपी में बगावत के बीच चिराग के चाचा पशुपति पारस की एंट्री, पार्टी में टूट पर दिया बड़ा बयान

0
11

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव में लोजपा की करारी हार के बाद पार्टी में बगावत हो गया है. प्रदेश महासचिव केशव सिंह ने पार्टी अध्यक्ष चिराग पासवान के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. वहीं, चिराग पासवान को हार की जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफे की मांग की. हालांकि, केशव सिंह को पार्टी से सस्पेंड कर दिया गया है.

वहीं, चिराग के चाचा हाजीपुर से सांसद पशुपति कुमार पारस भतीजे के समर्थन में उतर गए हैं. उन्होंने कहा कि लोजपा चिराग पासवान के नेतृत्व में एकजुट है. कुछ पार्टी विरोधी तत्वों द्वारा पार्टी के सांसदों में टूट की भ्रामक खबर फैलायी जा रही है. इसका मैं खंडन करता हूं. वहीं, प्रदेश महासचिव केशव सिंह को पार्टी से छह वर्षों के लिए निकाल दिया गया है.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

रामविलास पासवान के साथ पशुपति पारस (फाइल फोटो)

केशव सिंह 6 साल के लिए सस्पेंड

प्रदेश मीडिया प्रभारी कृष्णा सिंह कल्लू ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान के निर्देशानुसार प्रदेश अध्यक्ष प्रिंस राज ने पार्टी विरोधी कार्य में संलिप्त होने तथा अनुशासनहीनता के कारण पूर्व प्रदेश महासचिव केशव सिंह को तत्काल प्रभाव से प्राथमिकता सदस्यता से छह वर्षों के लिए निष्कासित किया है.

टूट की खबर अफवाह

बता दें कि केशव सिंह ने लोजपा में फूट की संभावना जाहिर करते हुए चिराग पासवान से इस्तीफे की मांग की थी. वहीं, पार्टी की नेता अशरफ अंसारी ने लोजपा में टूट खबर को विरोधियों की तरफ से प्लांटेड बताते हुए कहा है कि उनकी पार्टी मजबूत थी और हमेशा मजबूत रहेगी.

Get Today’s City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here