पटनाः विधानसभा चुनाव से ठीक पहले एनडीए में सब कुठ ठीक नहीं चल रहा है. जेडीयू और सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ एलजेपी नेताओं का आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है. सोमवार को लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के बिहार संसदीय बोर्ड की बैठक हुई जिसमें एलजेपी नेताओं ने नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव लड़ने से साफ इंकार कर दिया.

जनता दल (यू) के खिलाफ लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) चुनाव लड़ेगी या नहीं इसका फैसला एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान करेंगे. पार्टी ने सोमवार को पासवान को इसके लिए अधिकृत किया है. वहीं, चिराग पासवान अपनी पार्टी एलजेपी के उम्मीदवारों को अब जेडीयू के खिलाफ मैदान में उतारने की सोच रहे हैं. एलजेपी ने 143 विधानसभा क्षेत्रों के लिए प्रत्याशियों की सूची बनाने का निर्णय लिया है.

chirag paswan nitish kumar
                                                           सीएम नीतीश कुमार के साथ चिराग पासवान(फाइल फोटो)

नीतीश को लोकप्रिय नहीं मान रहे एलजेपी नेता

बैठक में एलजेपी के कुछ नेताओं ने दावा किया कि नीतीश कुमार अब लोकप्रिय नेता नहीं रह गए हैं और राज्य सरकार नौकरशाहों पर आवश्यकता से अधिक निर्भर है. पार्टी के कई नेताओं ने दावा किया कि राज्य के लोग कुमार के नेतृत्व से खुश नहीं हैं और कोविड-19 महामारी के समय चुनाव कराने को लेकर आक्रोशित हैं.
Get Daily City News Updates

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *