0Shares

Manihari-Sahibganj Road : बिहार और झारखंड के बीच यातायात में सुधार होने जा रहा है, जिससे यात्रियों को काफी सुविधा मिलेगी। बिहार और झारखंड को जोड़ने वाली राष्‍ट्रीय उच्‍च पथ (NH) की एक सड़क के चौड़ीकरण की बाधा अब दूर कर ली गई है।

आपको बता दें कि बिहार के मनिहारी से झारखंड के साहिबगंज को कनेक्ट करने वाली इस सड़क के चौड़ीकरण का कार्य जमीन की कमी के कारण रूका हुआ था, लेकिन अब राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग ने NH-133 B को 5 हेक्टेयर भूमि का आवंटन कर दिया है। अब जल्द ही इस सड़क के चौड़ीकरण का कार्य शुरू किया जा सकेगा। मिली जानकारी के अनुसार पिछले महीनें ही राज्य मंत्री मंडल की ओर से इस प्रस्ताव को स्वीकृति मिली थी।

Manihari-Sahibganj Road

Also Read : New Record In Road Construction : विश्व में बजेगा बिहार का डंका, 98 घंटे में 38 किमी सिंगल लेन सड़क निर्माण कर बनाया विश्व रिकॉर्ड

Manihari-Sahibganj Road : अधिसूचना भी जारी कर दी गयी

राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग की तरफ से इसकी अधिसूचना भी जारी कर दी गयी है। जानकारी के लिये बता दें कि बिहार के मनिहारी से झारखंड के साहिबगंज को कनेक्ट करने वाली यह महत्वपूर्ण सड़क परियोजना है। इसके चौड़ीकरण पर संभावित दो हजार करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे। वहीं, काफी लंबे समय से इस सड़क के चौड़ीकरण के लिए कटिहार के मनिहारी अंचल के कुछ हिस्से की जमीन की मांग हो रही थी।

मनिहारी से साहिबगंज के बीच गंगा नदी पर फोर लेन पुल का भी निर्माण कार्य किया जा रहा है। इसकी आधारशिला देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 17 अप्रैल 2017 को रखी थी। यह जमीन मनिहारी अंचल के मोहनपुर, हंसवर, मिर्जापुर, मोहनपुर, मीरगंज, केवाला, बौलिया, बघार आदि गांवों में है। हालांकि, जमीन गैर-मजरूआ आम या खास है। वहीं कुछ रकबा पथ निर्माण विभाग का भी है। राज्य सरकार ने NH को यह भूमि निःशुल्क दी है, बशर्ते यदि किसी वजह से सड़क नहीं बन पायी तो जमीन सरकार को वापस करनी होगी।

इस सड़क के और चौड़ा हो जाने पर वाहनों के यातायात में सहुलियत होगी और ट्रैफिक जाम की समस्या से भी काफी हद तक छुटकारा मिलेगा। इसके बाद लोगों को अपने गंतव्य तक पहुंचने में पहले के मुताबिक कम समय भी लगेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.