पटनाः मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज पहला अंतरराज्यीय बस अड्डा (ISBT) का उद्घाटन किया. करीब 25 एकड़ में फैले इस पांच मंजिले बस स्टैंड चार अलग-अलग ब्लॉक हैं. स्‍टैंड में शॉपिंग कॉम्‍प्‍लेक्‍स व मॉल से लेकर सिनेमा घर, यात्रियों के ठहरने और आराम करने के लिए अत्याधुनिक वेटिंग रूम तथा स्नानागार  आदि भी बनाए गए हैं.

साल 2017-18 में अंतरराज्‍यीय बस टर्मिनल (आइएसबीटी) योजना को सरकार ने स्वीकृति प्रदान की थी. मौजा पहाड़ी में बने इस बर स्टैंड की लागत 339.22 करोड़ है. इसे अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर का बनाया गया है. रोजाना यहां से रोज तीन हजार बसें खुलेंगीं तथा डेढ़ लाख यात्रियों का आवागमन होगा. विभिन्न क्षेत्रों से आने वाली बसों के लिए अलग-अलग टर्मिनल होंगे.

यात्रियों की सुविधा के लिए उपलब्ध सुविधाएं

बिहार के पहले आईएसबीटी में टिकट काउंटर, बुजुर्गों और बच्चों को ध्यान में रखते हुए एस्कलेटर की सुविधा दी गई है. जबकि छोटी कारों से आने वालों के लिए एलिवेटेड रोड बनाए गए हैं. वहीं, शॉपिंग कॉम्‍प्‍लेक्‍स, मॉल, वेटिंग हॉल, रेस्‍ट रूम, सिनेमा घर, स्नानागार बनाया गया है. ड्राइवर और  बस स्टाफ के छहरने के लिए भी इंतजाम किए गए हैं. बस अड्डे में कॉमर्शियल ब्लॉक भी बनाया गया है, जहां दुकानों का आवंटन बस अड्डे के संचालन व रखरखाव की समिति करेगी.

Get Daily City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here