नीतीश कैबिनेट में इन पुराने चेहरो की होगी इंट्री! पर कुश समीकरण को लग सकता है झटका

0
5

पटना: बिहार में मंत्रीमंडल के विस्तार को लेकर कवायद चल रही है. जेडीयू और बीजेपी के नेता आपस में बैठ कर इस इसकी रुपरेखा तैयार कर रहे हैं. वहीं, जदयू में बेहतर प्रदर्शन करने वाले विधायकों को मंत्रिमंडल विस्तार में शामिल होने का मौका मिल सकता है.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

पार्टी ने इस बार कई मानकों पर भावी मंत्रियों के चेहरों के आकलन का निर्णय लिया है. मंत्रिमंडल विस्तार में एनडीए के घटक दलों से इस बार कम से कम 15 नये मंत्री बनाये जा सकते हैं. इस को लेकर बीजेपी में भी मंथन का दौर चल रहा है. नीतीश कैबिनेट नये-पुराने चेहरो का समन्वय स्थापित किया जा सकता है.

युवा और पिछड़ों का भरोसा

जदयू सूत्रों की मानें तो विधानसभा चुनाव में महिलाओं और अतिपिछड़ों ने जमकर मतदान किया है. इससे पार्टी पर महिलाओं और अतिपिछड़ों का बढ़ता भरोसा साबित होता है. वहीं, युवाओं का भी झुकाव पार्टी की तरफ बढ़ा है. हालिया दिनों में युवक और युवतियां बड़ी संख्या में पार्टी में शामिल हुये हैं. ऐसे में पार्टी इस वर्ग से नये चेहरे को मंत्री मंडल में जगह दे सकती है.

पुराने चेहरे पर दाव

पार्टी में जिन चेहरों पर चर्चा हो रही है. इसमें पूर्व मंत्री नीरज कुमार, पूर्व मंत्री श्रवण कुमार, पूर्व मंत्री लेसी सिंह, पूर्व मंत्री बीमा भारती, पूर्व मंत्री नरेंद्र नारायण यादव, विधायक नरेंद्र कुमार नीरज उर्फ गोपाल मंडल सहित अन्य नाम शामिल हैं. ये सभी चेहरे पिछले कई चुनावों में पार्टी से जुड़ाव रखते हुए जीत हासिल करते आये हैं.

कुश समाज का प्रतिनिधत्व शून्य

हालांकि, प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा को बनाये जाने के बाद कैबिनेट में लव-कुश से कुश(कोयरी) में से मंत्री बनाये जाने पर कोई चर्चा नहीं हो रही है. फिलहाल कुश समीकरण से कोई भी मंत्री नहीं है जबकि लव से खुद सीएम नीतीश कुमार आते हैं और श्रवण कुमार के मंत्री बनाये जाने की चर्चा है. वहींं, कुश से शिक्षा मंत्री मेवा लाल चौधरी के इस्तीफे से बाद समुदाय से अब तक कोई भी मंत्री नहीं बनाया जा सका है. हालांकि, नीतीश कुमार अपने फैसले से हमेशा सबको चौकाते रहे हैं.

Get Today’s City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here