पटना: मुंगेर जिला के तारापुर विधानसभा क्षेत्र से जेडीयू विधायक मेवालाल चौधरी का आज अहले सुबह निधन हो गया. 68 वर्षीय जेडीयू विधायक तीन दिन पहले ही कोरोना संक्रमित होने के बाद राजधानी पटना स्थित पारस अस्पताल में भर्ती हुए थे. जहां, इलाज के दौरान उनका निधन हो गया. जेडीयू विधायक और पूर्व शिक्षा मंत्री के निधन पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शोक व्यक्त किया है.

पूर्व मंत्री के निधन पर सीएम नीतीश कुमार की ओर से प्रेस विज्ञप्ति जारी किया गया. जिसमें कहा गया, ” मेवालाल चौधरी एक कुशल राजनेता, प्रसिद्ध शिक्षाविद् और प्रख्यात समाजसेवी थे. वे मृदुभाषी और सरल स्वभाव के व्यक्ति थे. उनके निधन से मैं व्यक्तिगत रूप से मर्माहत हूं. उनके निधन से शिक्षा, राजनीतिक एवं सामाजिक क्षेत्र में अपूरणीय क्षति हुई है.”

राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

उन्होंने कहा, “मेवालाल चौधरी का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा.” बता दें कि मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की चीर शांति और उनके परिजनों को दुख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है.

ये भी पढ़ेंः पूर्व मंत्री मेवालाल चौधरी की कोरोना से मौत होने पर सीएम नीतीश कुमार और स्वास्थ्य मंत्री पर भड़के BJP कोटे के मंत्री

बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव, 2020 में तारापुर सीट से दोबारा चुनाव जीत कर विधानसभा पहुंचते ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कैबिनेट में जगह दी थी. हालांकि, शिक्षा मंत्री बनने के बाद काफी विवाद हुआ. विपक्ष ने दागी नेता को शिक्षा मंत्री बनाए जाने के मुद्दे पर सरकार को जमकर घेरा था.

शिक्षा मंत्री बनने के चंद घंटों के बाद ही मेवालाल को इस्तीफा देना पड़ा था. गौरतलब है कि दिवंगत विधायक की पत्नी नीता चौधरी भी विधायक रह चुकी हैं. कुछ वर्ष पहले किचेन में गैस सिलेंडर फटने से जलकर उनकी मौत हो गई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here