बिहार के श्रम मंत्री विजय सिन्हा ने अप्रवासी लोगों के बिहार आने पर कहा है कि जो बाहर रहते हैं अगर वो अपने राज्य आना चाहते हैं तो आएं उनका स्वागत है. उनका अपना घर है लेकिन जब बिहार आएं तो अपने साथ कोरोना जैसी संक्रामक बीमारी ना लाएं.

एक निजी न्यूज चैनल से बातचात मे विजय सिन्हा ने कहा कि बड़ी आबादी को बिहार में लाने में समस्या है. बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं जो हालात ठीक होने के बाद बिहार नहीं आना चाहते हैं. समस्या है तो हमारी सरकार उन राज्यों से बात कर समस्या का समाधान निकालने की कोशिश करेंगे. लेकिन ये प्रक्रिया कब तक चलेगी इस बारे में फिलहाल कुछ नहीं कह सकते हैं.

Immediately Receive Daily CG News Updates

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने कुछ शर्तों के साथ अप्रवासी मजदूरों और छात्रों को लाने की इजाजत बिहार सरकार को दी है. हालांकि, बिहार सरकार के सामने सरकारी बसों की संख्या बहुत कम होने से समस्या आ रही है. बिहार में मात्र 350 और PPE मोड पर सरकारी बसों की संख्या 250 है. कुल 600 बसें ही हैं इसमें 120 सिटी बसे हैं. हालांकि, लगभग 20 हजार से ज्यादा बस प्राइवेट है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here