पटनाः ददन पहलवान ने नीतीश कुमार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.फेसबुक पोस्ट में जेडीयू नेतृत्व पर आरोपों की झड़ी लगा दी है. जेडीयू विधायक ने टिकट काटने से नाराजगी जाहिर की है.

उनका कहना है कि जेडीयू ने डुमराव सीट पर बाहरी को उम्मीदवार बनाया है जबकि दूसरे तरफ नरसंहार करने वाली पार्टी का है.

ददन पहलवान ने कहा कि 6 दिन पहले सीएम नीतीश कुमार ने आश्वासन देते हुए क्षेत्र में कार्य करने को कहा. प्रदेश जेडीयू अध्यक्ष ने मुलाकात के दौरान सीटिंग एमएलए के नाते टिकट के लिए चिंता नहीं करना है.

जेडीयू ने नॉमिनेशन के आखिरी वक्त में मेरे साथ विश्वासघात किया. यह विश्वासघात डुमराव की जनता के साथ है.ददन पहलवान का आरोप है कि उनकी राजनीतिक करियर खत्म करने की कोशिश की गई है.

नंदन गांव में में सीएम के काफिले पर हुए हमले में जान पर खेल कर उन्हें निकाला.बावजूद इसके मेरे ऊपर आरोप लगाया गया. जबकि सत्य यह है कि मैं हमेशा से गरीब, वंचित के लिए काम करते रहे हैं.

Immediately Receive Daily CG Newspaper Updates

अंजुम आरा को मिला है जदयू से टिकट

ददन पहलवान का कहना है कि वो कभी सोच भी नहीं सकते हैं कि उनके साथ इस तरह की धोखेबाजी होगी. उनका कहना है कि मैंने एक ऐसे इंसान पर विश्वास किया था जो हर बार किसी ना किसी को धोखा देने का काम किया है. बता दें कि डुमराव से जेडीयू ने प्रदेश प्रवक्ता अंजुम आरा को टिकट दिया है. वहीं, मंगलवार को ददन पहलवान अपना नामांकन दाखिल करेंगे.


Get Daily City News Updates

Leave a comment

Cancel reply

Your email address will not be published.