पटनाः राजधानी पटना के होटल मौर्या में महागठबंधन का आज प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित किया गया. जहां, सीट शेयरिंग की घोषणा की गई. इसमें नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव  समेत महागठबंधन के साथ कई नेता शामिल रहे. सीट शेयरिंग की घोषणा होते ही वीआईपी प्रमुख मुकेश सहनी ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव सहित अन्य दलों के नेता के सामने ही बगाबत कर दी.

पूर्व सीएम जीतन राम मांझी, आरएलएसपी सुप्रीमो उपेंद्र कुशवाहा के बाद अब वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी ने भी महागठबंधन से बगावत कर दी है. मुकेश सहनी ने बीच प्रेस कॉन्फ्रेंस में ही महागठबंधन छोड़ने का एलान कर दिया है. दरअसल, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सीट शेयरिंग की घोषणा भी की है. जिसमें सीपीएम को 4, सीपीएमएल-19, सीपीआई के खाते में 6 सीट जबकि कांग्रेस को 70 सीट के अलावा वाल्मीकिनगर लोकसभा उपचुनाव सीट भी मिलेगी. वहीं, महागठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी आरजेडी 144 सीट पर चुनाव लड़ेंगी. वहीं, आरजेडी वीआईपी और जेएमएम अपने खाते से सीट देगी.

संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते तेजस्वी यादव
संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते तेजस्वी यादव

ये भी पढ़ेंः होटल मौर्या में महागठबंधन का ऐलान, तेजस्वी ही होंगे उनके सीएम कैंडिडेट

वीआईपी के खाते की सीट की घोषणा नहीं होने से नाराज वीआईपी प्रमुख मुकेश सहनी ने मंच पर कहा कि मैं जा रहा हूं, दलित के बेटे के साथ धोखा हुआ है. मुझे 25 सीट और उपमुख्यमंत्री की कुर्सी का आश्वासन मिला था. अतिपिछड़ा के साथ धोखा हुआ है. ये गलत है. उनके पीठ में खंजर भोका गया है. मुकेश साहनी के कहते ही पीसी के दौरान ही हंगामा शुरू हो गया. इसके बाद वीआईपी नेता पीसी छोड़कर निकल गए.

ये भी पढ़ेंः होटल मौर्या में महागठबंधन का ऐलान, तेजस्वी ही होंगे उनके सीएम कैंडिडेट

बता दें कि इस  प्रेस कॉन्फ्रेस में तेजस्वी यादव के साथ उनके बड़े भाई तेज प्रताप यादव, प्रदेश प्रधान महासचिव आलोक मेहता, कांग्रेस के स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष अविनाश पांडे, वरिष्ठ नेता सदानांद सिंह भी मौजूद रहे.

Get Daily City News Updates

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *