बिहार सरकार ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए राज्य में मास्क पहनना अनिवार्य किया है. ऐसे में लोगों के बीच मास्क मुहैया कराने के लिए जिले का एक एक मुस्लिम परिवार घर का जेवर बेचकर मास्क बनाने में जुटा है. मुस्लिम परिवार कटिहार के फलका प्रखंड के महेशपुर पंचायत स्थित सालेहपुर गांव का रहने वाला है. बुजूर्ग महिला शाहिदा और उनके पति दिनभर में करीब 4 से 5 दर्जन मास्क का निर्माण कर लोगों के बीच बांट रहे हैं.

मुस्लिम परिवार का उद्देश्य गरीब, दलित और झुग्गी झोपड़ी में रहने वालों को फ्री में मास्क बांटना है. ऐसे जगहों पर लोगों को मास्क के अलावा साबुन भी फ्री में बांट रहे हैं. इस काम में बुजूर्ग महिला का बेटा भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रहा है. बता दें कि महिला के पति कादिर नेपाल से कपड़ा कटिंग टेलरिंग का काम छोड़ वापस घर लौटे हैं. ऐसे में पूरा परिवार मिलकर मास्क का निर्माण और वितरण करने में जुटा है.

Immediately Receive Daily CG News Updates

मास्क बांटता शाहिदा का बेटा

बता दें कि शाहिदा और उनके पति कादिर दिन भर मास्क को तैयार करते हैं. वहीं, तैयार किये गए मास्क को बुजूर्ग का बेटा सोनू अपनी टोलियों के साथ घूम-घूम कर जरुरतमंद लोगों के बीच फ्री में बांटता है. इसके अलावा पुलिस कर्मियों को भी मास्क खुद से पहनाते हैं. मास्क के साथ साबुन भी दिया जाता है. ताकि, कोरोना के संक्रमण से लोगों को बचाया जा सके. घर का जेबर बेच कोरोना संक्रमण से लोगों को बचाने की मुहिम की लोग खुब प्रशंसा कर रहे हैं. 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *