रक्सौल. बिहार विधानसभा चुनाव होने में अब कुछ ही दिन बचे हैं. तो वहीं टिकट बंटवारे को लेकर पार्टी नेताओं में बगावत शुरू हो चुकी है. ताजा मामला रक्सौल विधानसभा सीट का है.

जहां जेडीयू के पूर्व जिलाध्यक्ष प्रमोद कुमार सिन्हा को बीजेपी ज्वाइन करा कर टिकट मिलना तय बताया जा रहा हैं. तो वहीं जेडीयू के वर्तमान मोतिहारी जिला अध्यक्ष कपिल देव प्रसाद ने पार्टी से नाराज होकर निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है.

तीसरे चरण में होगा मतदान
बता दें कि तीसरे चरण में रक्सौल विधानसभा का मतदान होना हैं. 1990 से ही यहां बीजेपी को टिकट मिलता रहा है. यहां तक कि चम्पारण में पहली बार रक्सौल में ही बीजेपी का खाता डॉ.

अजय सिंह ने खोला है. जबकि इस बार इनका टिकट कटना तय है. टिकट नहीं मिलने को लेकर डॉ. अजय सिंह ने बगावत का बिगुल भी फूंक दिया गया है.
Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

राजनीतिक पार्टियां टिकट बेचने का लगा रही आरोप
टिकट की अब तक घोषणा नहीं हुई पर जेडीयू के पूर्व जिलाध्यक्ष प्रमोद कुमार सिन्हा को बीजेपी ज्वाइन कर टिकट मिलना तय है. इस पर राजनीतिक पार्टियां टिकट बेचने का आरोप लगा रही हैं.

चर्चा है कि तीन करोड़ में एक बिजनसमैन के माध्यम से बीजेपी पार्टी फंड में दिया गया है. अब सिन्हा के टिकट का विरोध हो रहा है. बीजेपी के अलावा जेडीयू भी विरोध में उतर आई है.

ये भी पढ़ें.कैंडिडेट चयन की एक खबर से कांग्रेस में मच गया हड़कंप, आनन-फानन में पार्टी का आया बयान

भेलाही पंचायत में दो बार रह चुके हैं मुखिया
वहीं, दूसरी ओर जेडीयू के वर्तमान मोतिहारी जिला अध्यक्ष कपिल देव प्रसाद भी रक्सौल विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में उतर गए हैं. उनका कहना है कि वे अपने गृह क्षेत्र भेलाही पंचायत में दो बार मुखिया रह चुके हैं.

Get Today’s City News Updates

वहीं 2016 से मोतिहारी के पार्टी के जिलाध्यक्ष के रूप में सेवा कर रहे हैं. यहां तक कि 1982 से ही लोगों के बीच में हैं. मुझे टिकट का आश्वासन देकर पार्टी ने अन्य को टिकट दे दिया. लोगों की भावना को देखते हुए रक्सौल में मैं निर्दलीय चुनाव लड़ूंगा.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *