पटनाः बिहार में विशेष राज्य का दर्जा को लेकर खूब सियासत हुई. लेकिन हालिया दिनों में इसकी मांग उठाने वाली पार्टी ने इसे ढंठे वस्ते में डाल दिया लेकिन इसकी चर्चा फिर होने लगी है. सीएम नीतीश कुमार ने आज मीडिया से बातचीत में कहा है कि विशेष राज्य के दर्जे को लेकर नीति आयोग की मीटिंग में पीएम प्रधानमंत्री के सामने रखी है.

नीतीश कुमार ने विशेष राज्य की मांग फिर से उठाते हुए कहा कि बिहार में बहुत काम हो रहा है और फिलहाल इसकी बहुत ज्यादा जरूरत है. अगर ऐसा नहीं हो पाता है तो बिहार को और ज्यादा तेजी से समृद्ध बनाने में कामयाब नहीं हो पायेंगें.  वहीं, मुख्यमंत्री ने जहरीली शराब से मौत पर कहा कि लगातार सरकार इस पर कार्रवाई कर रही है. लेकिन कुछ लोग हैं जो गड़बड़ी हमेशा फैलाने की कोशिश करते हैं और हम ने इस संबंध में विभाग को कठोर निर्देश दिया है.

शराबबंदी को रखे ख्याल

सीएम ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि सभी लोगों को याद रखना चाहिए उसमें पत्रकार लोग भी हैं जिन्होंने गांधी मैदान में 2017 में शराबबंदी को लेकर मानव श्रृंखला में भाग लिया था. कुछ लोग जानबूझ कर शराबबंदी में जहरीली शराब पीकर खुद का और दूसरे का जीवन दांव पर लगाते हैं.

सोशल मीडिया का हो रहा दुरूपयोग

वहीं, सोशल मीडिया के दुष्प्रचार पर कहा कि इसका उपयोग अच्छी चीजों के लिए होना चाहिए. लेकिन जब कोरोना काल में बच्चे घर से बाहर नहीं निकल रहे थे तब सोशल मीडिया का जमकर दुष्प्रचार किया जा रहा था. इसी को लेकर लोगों को सचेत भी किया है. दूसरी तरफ इशारों-इशारों में तेजस्वी यादव पर भी निशाना साधते हुए कहा कि कुछ लोग कुछ कुछ दुष्प्रचार करते रहते हैं. वहीं, विधान परिषद के नॉमिनेशन पर कहा कि अभी तक भाजपा की तरफ से लिस्ट नहीं आया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here