नीतीश कुमार से फिर मिले उपेंद्र कुशवाहा, सियासी हलचल हुई तेज

0
7

पटनाः बिहार की सियासत में उठापटक का दौर जारी है. सीएम नीतीश कुमार की राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा से फिर मुलाकात हुई है. दोनों नेताओं की मुलाकात के बाद सियासत तेज हो गई है. इस दौरान  जेडीयू के सीनियर नेता वशिष्ठ नारायण सिंह भी मौजूद थे.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

इस मुलाकात के बाद रालोसपा सुप्रीमो उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार और मैं कभी भी अलग-अलग नहीं थे. हां, बस राजनीतिक रूप से जरूर अलग थे. इसके साथ उन्‍होंने कहा कि आगे क्या होगा, फिलहाल इस पर क्या बोलें?

वशिष्ठ नारायण सिंह थे मौजूद

नीतीश और कुशवाहा की मुलाकात पर वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि दोनों की मुलाकात अच्‍छी रही. हालांकि कुशवाहा कभी भी हमसे दूर नहीं रहे हैं. हां, बीच में राजनीतिक दूरियां भले ही हो गई थीं. उम्मीद है कि उनके (कुशवाहा ) आने से जेडीयू को मज़बूती मिलेगी. इसके साथ उन्‍होंने कहा कि यह सब कब होगा इसके बारे में मुझे कुछ पता नहीं है, लेकिन नीतीश कुमार और कुशवाहा का मिलन स्वाभाविक है.

ये भी पढ़ेंः कमजोर पड़े नीतीश ने की छोटे भाई उपेंद्र कुशवाहा से मुलाकात! बढ़ी सियासी हलचल

समीकरण बैठाने में जुटे नीतीश

दोनों नेताओं की मुलाकात से बिहार में सियासत तेज हो गई है. सियासी पंडित कह रहे हैं कि कुशवाहा और नीतीश कुमार की मुलाकात का परिणाम भी सामने आएगा और बिहार में जल्द ही नया राजनीतिक समीकरण देखने को मिल सकता है. बताया जा रहा है कि नीतीश कुशवाहा को अपने पाले में कर के विधान परिषद भेजकर बड़ी जिम्मेदारी मंत्रीमंडल में दे सकते हैं. वहीं, लव-कुश समीकरण सीएम नीतीश कुमार की पहली पसंद है जिसे मजबूती भी मिल जायेगी.

ये भी पढ़ेंः नीतीश कुमार ने फोन कर कुशवाहा को बोला ‘थैंक्स’ फिर उपेंद्र कुशवाहा….

बता दें कि 17वीं बिहार विधानसभा में पहले सत्र के अंतिम दिन (27 नवंबर) नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर अमर्यादित टिप्पणी की थी. इस पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी आक्रोशित हो उठे थे और सदन में  काफी कुछ सुना दिया था. वहीं, उपेन्द्र कुशवाहा ने तेजस्वी के की आलोचना करते हुए सीएम नीतीश कुमार के साथ खड़े हो गये थे. इसके बाद दोनों नेताओं की सीएम हाउस में मुलाकात हुई थी.

Get Daily News Update in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here