पटना. कोरोना काल में हो रहे बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर इस बार युद्ध स्तर से तैयारियां की जा रही हैं. इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग की जिम्मेवारी भी बहुत बढ़ गई है. वहीं चुनाव में लगे 7 लाख मतदानकर्मियों को सुरक्षित रखने के लिए प्रशासन ने पुख्ता तैयारी की है. पटना के ज्ञान भवन में मतदानकर्मियों के लिए एक एक पैकेज तैयार किये जा रहे हैं, जिनमें 6 मास्क, एक सेनेटाइजर, फेस शील्ड, और ग्लव्स रखे जा रहे हैं.

मिली जानकारी के अनुसार पहले चरण के मतदान के लिए अबतक पटना में 52 हजार पैकेट तैयार कर लिए गए हैं. जीविका के द्वारा तैयार किये जा रहे. पैकेट का पटना डीएम लगातार मोनीटरिंग कर रहे है. डीएम ने बताया सुरक्षित मतदान जिम्मेदारी है और इसे बखूबी निभाया जाएगा.

निर्वाचनकर्मियों के लिए की जा रही पैकेजिंग
बता दें कि तीनों चरणों में 7.69 लाख मतदान कर्मियों को कोरोना से बचाव के लिए सुरक्षात्मक सामग्रियों की पैकेजिंग जारी है. पहले चरण में 2 लाख 25 हजार 941 निर्वाचनकर्मियों के लिए पैकेजिंग करायी जा रही है. पहले फेज के लिए 31 हजार 380 मतदान केंद्रों पर मतदाताओं को कोविड 19 से संबंधित सुरक्षात्मक सामग्रियों की पैकेजिंग की जा रही है. वहीं स्वास्थ्य विभाग ने दूसरे और तीसरे चरण के चुनाव को लेकर 15 अक्टूबर तक पैकेजिंग पूरी करने का लक्ष्य रखा है.

पैकेजिंग के लिए 3 प्रमंडलों को किया गया चिन्हित
स्वास्थ्य विभाग ने पैकेजिंग की जिम्मेवारी बीएमएसआइसीएल को  दिया है, जिसके माध्यम से पूरे राज्य में निर्वाचनकर्मियों एवं सुरक्षाबलों को कोरोना से बचाव को लेकर सुरक्षात्मक सामग्रियों की पैकेजिंग करानी है. मतदान में भाग लेनेवाले प्रत्येक मतदानकर्मी के लिए कोरोना से बचाव को लेकर सामग्रियों का एक-एक पैकेट तैयार होगा. पैकेजिंग के लिए 3 प्रमंडलों को चिन्हित किया गया है जिसमें पटना में आज से पैकेजिंग का काम शुरू भी हो गया है.

ये भी पढ़ें.इस बार महुआ छोड़कर इस क्षेत्र से चुनाव मैदान में उतरेंगे तेजप्रताप यादव, कल दाखिल करेंगे नामांकन

बता दें कि तीन प्रमंडलों- पटना, मुजफ्फरपुर और पूर्णिया में पैकेजिंग हो रही है. सोमवार से युद्धस्तर पर पटना के ज्ञान भवन में स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारियों व कर्मियों की मौजूदगी में  पैकेजिंग शुरू कर दी गयी है. जो पैकेट तैयार कराए जा रहे हैं उनमें मतदानकर्मियों के लिए प्रति पैकेट में ये सामग्री उपलब्ध रहेंगे.

मतदाताओं के लिए अलग से की जा रही पैकेजिंग
हैंड सेनेटाइजर- 1, यूनिट थ्री प्लाइ मास्क-6, यूनिट फेस शील्ड-1, यूनिट हैंड गल्ब्स – 2 जोड़ा,  मतदानकर्मियों के अलावे सेंट्रल पारा मिलिट्री फोर्स के लिए एक पैकेट में ये सामग्री रहेंगे. वहीं जिसको लेकर सबसे ज्यादा फोकस है वो हैं मतदाता. प्रत्येक मतदान केंद्र पर मतदाताओं के लिए अलग से पैकेजिंग की जा रही है. हैंड सेनेटाइजर- 6, थर्मल स्कैनर-1 यूनिट, डिस्पोजेबुल हैंड ग्लब्स,  इस प्रकार से राज्य के तीन प्रमंडलों मव लगातार पैकेजिंग का काम जारी रहेगा.

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने बतौर स्वास्थ्य सचिव लोकेश कुमार,उपसचिव रैंक के तमाम अधिकारियों को निर्देश भी दिया है कि किसी भी पैकेट में कोई सामग्री छूटे नहीं इसको लेकर लगातार मॉनिटरिंग में रहें. बता दें कि इस बार चुनाव आयोग ने ही कोविड गाइडलाइन्स जारी किया है, जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग के सामने बड़ी चुनौती है और 15 दिनों पहले ही पैकेजिंग का काम शुरू हो गया है.

Get Today’s City News Updates

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *