पप्पू यादव को हिरासत में लेने पर नीतीश सरकार से भिड़ गए सहयोगी जीतनराम मांझी, कहा-खतरनाक है…

0
10

पटनाः जाप संरक्षक और  पूर्व सांसद पप्पू यादव को आज पटना पुलिस ने कोरोना गाइडलाइन तोड़ने के मामले में हिरासत में ले लिया. बुद्धा कॉलोनी के मंदिरी स्थित आवास से पुलिस पप्पू को हिरासत में लेकर गांधी मैदान पहुंची. इसके बाद सासत में भूचाल आ गया है.

जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव के मामले में नीतीश कुमार सरकार के सहयोगी जीतन राम मांझी नाराज हो गए हैं. हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने पप्पू यादव की गिरफ्तारी पर नीतीश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कोई जनप्रतिनिधि अगर दिन-रात जनता की सेवा करे और उसकी एवज में उसे गिरफ्तार की जाए, ऐसी घटना मानवता के लिए खतरनाक है. ऐसे मामलों की पहले न्यायिक जांच हो तब ही कोई कारवाई होनी चाहिए नहीं तो जन आक्रोश होना लाजमी है.

पप्पू यादव का ट्वीट

वहीं, मंगलवार को हाउस अरेस्ट होने के बाद पप्पू यादव ने ट्वीट कर इसकी जानकारी तो दी ही इसके साथ ही एक ऐसा पोस्ट उन्होंने किया जिसमें उनकी भावुकता झलकी. उन्होंने लिखा “कोरोनाकाल में जिंदगियां बचाने के लिए अपनी जान हथेली पर रख जूझ रहे हैं. अगर ऐसे करना अपराध है, तो हां मैं अपराधी हूं.”

ये भी पढ़ेः पप्पू यादव का छलका दर्द, कोरोना में लोगों की जिंदगी बचाने के लिए जान हथेली पर रखना अपराध है तो मैं अपराधी हूं

प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री से कहा कि दे दो फांसी, या, भेज दो जेल. झुकूंगा नहीं, रुकूंगा नहीं. लोगों को बचाऊंगा. बेईमानों को बेनकाब करता रहूंगा! वहीं. दूसरी ओर गिरफ्तारी के तुरंत बाद ही रिलीज पप्पू यादव ट्विटर पर एक नंबर पर ट्रेंड करने लगा. लोग अपनी प्रतिक्रिया देने लगे.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here