लॉकडाउन में कोरोना पीड़ितों की मदद करने पड़ी भारी! पप्पू यादव को पटना पुलिस ने किया ‘गिरफ्तार’!

0
11

पटना: कोरोना काल में बतौर नायक के तौर पर उभरे जाप सुप्रीमो पप्पू यादव को लोगों की मदद करने महंगी पड़ गई है. पटना के उत्तरी मंदिरी स्थित आवास पर मंगलवार की सुबह बुद्धा कॉलोनी थाना की पुलिस पहुंची. लॉकडाउन के नियमों की अनदेखी कर रहे पप्पू यादव को पुलिस ने नियमों का पालन करने को लेकर चेतावनी दी. वहीं, पूरे राज्य में बात आग की तरह फैल गई कि जाप सुप्रीमो को हाउस से अरेस्ट कर लिया गया है.

पप्पू यादव के समर्थकों ने बताया कि जाप नेता को पटना स्थित उनके निजी आवास पर बुद्धा कॉलोनी थाना के प्रभारी ने हाउस रेस्ट कर लिया है. हालांकि, इस संबंध में पटना के आईजी ने एक न्यूज चैनल को को फोन पर बताया कि पप्पू यादव को पहले भी आग्रह और आगाह किया गया था. लेकिन वो हर बार नियमों को नहीं तोड़ने का भरोसा देते हैं, फिर गाइडलाइन तोड़ कर निकल जाते हैं. ऐसे में पप्पू यादव के खिलाफ कानूनी कार्रवाई पर विचार किया जा रहा है.

पुलिस हिरासत में पप्पू के सहयोगी

इधर, हंगामा बढ़ता देख बुद्धा कॉलनी थाना पुलिस ने उन्हें और उनके कुछ सहयोगियों को हिरासत में ले लिया. जबकि पुलिस उन्हें गांधी मैदान थाने लेकर गई. इस बात की जानकारी पप्पू यादव ने खुद ट्वीट कर दी है.

विदित हो कि पप्पू यादव लॉकडाउन के दौरान बगैर अनुमति के पूरे बिहार में सभी जगह जा रहे हैं. पुलिस बार-बार उन्हें लॉकडाउन के नियमों का पालन करने बोल रही है लेकिन वह रोजाना कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए निकल रहे हैं.

ये भी पढ़ेंः बीजेपी सांसद को महंगा पड़ा चैलेंज! 24 घंटे के भीतर पप्पू यादव ने खड़ी कर दी एंबुलेंस के लिए ड्राइवरों की फौज

एबीपी न्यूज के खबर मुाबिक पटना पुलिस के सूत्रों ने बताया कि पटना डीएम ने अपने मजिस्ट्रेट के जरिए जाप नेता के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है. महामारी रोग अधिनियम के तहत पप्पू यादव के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो रहा है. पुलिस ने उन्हें बार-बार चेतावनी दी थी, लेकिन बगैर ई-पास के वे बिहार में घूम रहे थे. कोविड अस्पतालों में अंदर कोरोना के मरीजों से मिल रहे थे. ऐसे में मंगलवार को आखिरकार उनके खिलाफ कार्रवाई की गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here