0Shares

Patna Junction : बिहार की राजधानी पटना में ट्रैफिक जाम की समस्या से हर कोई परेशान है। हालांकि, ये समस्या अब आम है। आए दिन शहर की सड़कों पर वाहनों लंबी लंबी लाइनें लगी मिलती है, जो घंटों नहीं हिलती। हालांकि, राजधानी में बने पुल और ओवरब्रिज से शहर के अंदर जाम से थोड़ी राहत मिली है, लेकिन शहर के अंदर अभी भी यह समस्या जस की तस है। वहीं, दूसरी तरफ पटना जंक्शन पर यात्रियों की संख्या में बढ़ोतरी देखने को मिलती है। यहां पर ट्रैफिक जाम लगने के कई कारण हैं, जिसमें स एक हनुमान मंदिर में दर्शन के लिए लोगों का भारी तादाद और दूसरा कारण ये है कि शहर के दूसरे हिस्से के लिए यहां आसानी से गाड़ियां मिल जाती है। इसके अलावा पटना जंक्शन पर प्रतिदिन हजारों की संख्या में यात्री पहुंचते हैं, जिसके चलते भी भारी जाम लगता है।

इस समस्या के समाधान और यात्रियों की भीड़ को देखते हुए पटना जंक्शन पर प्रस्तावित सब-वे के निर्माण के लिए डिजाइन तैयार किया गया है। मिली जानकारी के अनुसार पटना जंक्शन और जीपीओ गोलंबर के उत्तर-पूर्व छोर के पास इस सब-वे के प्रवेश व निकास द्वार का डिजाइन बना है। इसके लिए पटना जंक्शन, मल्टीलेवल पार्किग और बकरी बाजार के पास एंट्री और एग्जिट बनाया जाना है।

Patna Junction : इसकी जिम्मेदारी पटना स्मार्ट सिटी लिमिटेड को दी गयी

बता दें कि इसकी जिम्मेदारी पटना स्मार्ट सिटी लिमिटेड को दी गयी है, जो जंक्शन गोलंबर के पास ट्रैफिक के दबाव को कम करने में मदद करेगा। यह भी ज्ञात हुआ है कि इस सब-वे के निर्माण की पूरी जिम्मेदारी पुल विकास निगम उठायेगा। साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि इस पुल के बन जाने में दो साल का समय लगने वाला है। इसी बीच सब-वे का निर्माण कार्य बकरी बाजार वाले हिस्से से शुरू भी कर दिया गया है। वर्तमान में इसके ऊपरी हिस्से में काम चल रहा है।

Patna Junction

Also Read : Biggest Exam Hall Patna : पटना में बन रहा देश का सबसे बड़ा परीक्षा भवन, एक साथ 25,000 परीक्षार्थियों के बैठने की व्यवस्था, होगा आधुनिक सुविधाओं से लैस

स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अधिकारियों की मानें तो सब-वे की कुल लंबाई 440 मीटर रहेगी। ऐसे में कहा जा रहा है कि मानसून समाप्त होने के बाद इन इलाकों में अंडरग्राउंड सब-वे निर्माण के लिए खुदाई की जाएगी। पटना जंक्शन से मल्टीलेवल पार्किंग तक का 330 मीटर का भाग अंडरग्राउंड होगा, जबकि मल्टीलेवल पार्किंग से बकरी बाजार तक 110 मीटर सतह पर काम जारी है। इस सब वे में यात्रियों को विशेष तरह की सुविधा मिलेगी, जैसे- कि आप सब-वे से शहर के किसी भी हिस्से में जा सकेंगे। इसके अलावा सब-वे में दो लेन रहेंगी। एक लेन में ट्रैवलेटर की सुविधा दी जाएगी और दूसरी लेन को स्थायी बनाया जाएगा।

Patna Junction : कुल 68 करोड़ रुपए खर्च किये जायेंगे

बताया गया है कि इस लेन के निर्माण में कुल 68 करोड़ रुपए खर्च किये जायेंगे। इस सब- में आपको एसी, पावर बैकअप, ड्रेनेज, अग्निशमक, वेंटिलेशन और रैंप की सुविधा मिलने वाली है। साथ ही सब-वे के बन जाने के बाद से पूरे पटना जंक्शन का लुक ही बदल जाएगा। यानी कि आप अगर लंबे समय के बाद पटना जंक्शन जा रहे हैं, तो आपकों कुछ नया ही नजारा देखने को मिलेगा।

इस सब वे को मल्टी मोडल ट्रांसिट हब के रूप में विकसित किया जा रहा है। इस संबंध में बुद्ध स्मृति पार्क के पास मल्टीलेवल पार्किंग सब-वे खुला रहेगा, जोक पटना जंक्शन के सब-वे से जुड़ा होगा। इस तरह से पटना जंक्शन के भीड़ को नियंत्रित किया जा सकता है। बता दें कि इस पूरी परियोजना को स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत पूरा किया जाना है, जिसके लिए बकरी बाजार में 361 करोड़ रुपये से पांच मंजिला मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब बनाया जाना है।

Leave a comment

Your email address will not be published.