0Shares

Pediatric Intensive Care Unit : बच्चों के बेहतर इलाज के उद्देश्य से बिहार की राजधानी पटना में स्थित गुरु गोविंद सिंह अस्पताल और PMCH में 20 बेड का अस्थाई पिडियाट्रिक इंटेंसिव केयर यूनिट (पिकू) वार्ड बनाया जाएगा। मिली जानकारी के अनुसार अगले 3 महीनें में यह वार्ड बनकर तैयार हो जाएगा। गौरतलब है कि राज्य सरकार ने 28 जिला अस्पतालों में अस्थाई पिकू वार्ड बनाने की योजना बनाई थी, लेकिन किसी कारणवश 14 जिलों में निर्माण की प्रक्रिया प्रारंभ नहीं हो पाई थी।

हालांकि, अब टेंडर का काम पूरा होने के बाद 3 महीने में निर्माण प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। राजधानी पटना सहित जीएमसी बेतिया, गोपालगंज, पूर्णिया, जहानाबाद, मधेपुरा, नालंदा, मधुबनी, सीवान और वैशाली जिला अस्पतालों में 42-42 बेड, जबकि सुपौल एवं भागलपुर जिला अस्पताल में 32-32 बेड के पिकू वार्ड बनाये जाने हैं। वहीं, भागलपुर के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में 25 और सदर अस्पताल में 10 बेड के अस्थाई पिकू वार्ड का निर्माण करवाया जायेगा।

Pediatric Intensive Care Unit

Aslo Read : गरीबों के हित में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का फैसला, एक आइजीआइएमएस में कई बीमारियों का मुफ्त में इलाज होगा संभव

Pediatric Intensive Care Unit : पिकू वार्ड बनाने के लिए राज्य सरकार ने राशि प्रदान की थी

कोविड इमरजेंसी रिस्पॉन्स एंड हेल्थ सिस्टम प्रिपेयर्डनेस पैकेज फेज-2 के तहत केंद्र सरकार द्वारा गंभीर बच्चों के इलाज के लिए पिकू वार्ड बनाने के लिए राज्य सरकार ने राशि प्रदान की थी। प्राथमिकता के आधार पर पिकू वार्ड बनाने के लिए 28 जिलों को चयनित किया गया था। इसके अनुसार 22 जिला अस्पतालों में 42-42 और 6 जिला अस्पतालों में 32-32 बेड के पिकू वार्ड का निर्माण किया जाना था। वहीं, बिहार स्वास्थ्य सेवाएं आधारभूत संरचना निगम ने फरवरी माह में निर्माण प्रक्रिया शुरू की थी, जबकि राज्य के 14 जिलों और दो मेडिकल कॉलेज अस्पताल में निर्माण प्रक्रिया शुरू नहीं हो सकी थी।

अब अस्पतालों के साथ पीएमसीएच और जेएनएमसीएच में अस्थाई पिकू वार्ड निर्माण की प्रक्रिया जल्द से जल्द शुरू करने का निर्णय लिया गया है। अब 10 जिला अस्पतालों में 42-42 और दो जिला अस्पताल में 32-32 तथा एक जिला अस्पतालन में 10 बेड का पिकू वार्ड बनाया जाना है। हालांकि, इन सभी अस्पतालों में वार्ड बनाने के लिए राशि जारी कर दी गई है। अब निर्माण हेतु टेंडर जारी किया जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.