नालंदाः नूरसराय बाजार स्थित सामुदायिक भवन संगत में नूरसराय को नगर पंचायत का दर्जा की मांग को लेकर स्थानीय लोगों की बैठक हुई है. बैठक में स्थानीय व प्रखंड क्षेत्र के बुद्धिजीवियों के साथ नालंदा विकास मोर्चा और युवा शक्ति नूरसराय के सदस्यों ने भाग लिया.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

बैठक में बीजेपी के पूर्व उम्मीदवार और नालंदा युवा मोर्चा के अध्यक्ष कौशलेंद्र कुमार उर्फ छोटे मुखिया ने कहा कि जब पंचायत का परिसमन हुआ था तब से ही नूरसराय को नगर पंचायत बनाने की कवायद शुरू हुआ था. हॉर्टीकल्चर कॉलेज, जिला का डायट संस्थान भी नूरसराय में हैं दर्जनों लघु उद्यमी नूरसराय में हैं बावजूद इसके नूरसराय को नगर पंचायत का दर्जा नहीं मिल पाया.

नूरसराय के साथ भेदभाव

छोटे मुखिया ने कहा कि नूरसराय बाजार से छोटे बाजार जैसे रहुई, कतरीसराय, पावापुरी, नालंदा को नगर पंचायत का दर्जा मिल गया. नूरसराय बाजार व आसपास की आबादी 35 हजार के करीब है फिर भी नूरसराय के साथ नाइंसाफी हुआ. कुछ लोग पंचायत में अपना प्रभुत्व जमाने के लिए नूरसराय बाजारवासियों को दिग्भ्रमित कर नगर पंचायत का दर्जा नहीं हो इसके लिए साजिश रचा है.

नगर पंचायत का दर्जा से होगा विकास

पूर्व बीजेपी नेता ने कहा कि अगर नूरसराय को नगर पंचायत का दर्जा मिल जाता तो जलजमाव से मुक्ति, बाजार स्वच्छमुक्त, कूड़ादान, सफाईकर्मी सहित अन्य सुविधाएं लोगों को मिलती. नूरसराय के विकास व पहचान के लिए नूरसराय को नगर पंचायत का दर्जा मिलना जरूरी है.

ये भी पढ़ेंः नालंदा जिला बीजेपी कार्यकर्ताओं की बैठक में भूपेंद्र यादव और बी एल संतोष ने दी खास टिप्स

बैठक में वक्ताओं ने नूरसराय को नगर पंचायत का दर्जा देने के लिए सरकार से मांग की. साथ ही वक्ताओं ने कहा कि जब तक मांग पूरा नहीं होगा तब तक धरना, प्रदर्शन के साथ चरण बद्ध आंदोलन किया जाएगा. बैठक में विशेश्वर प्रसाद, बसंत कुमार, मदन प्रसाद,लालो राम,सिया शरण प्रसाद,रवि यादव,पंकज मालाकार,राजीव कुमार,धनंजय कुमार,सुरेंद्र यादव,निक्की कुमार सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे.

Get Today’s City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here