पटना:पटना: रुपेश सिंह हत्याकांड पर डीजीपी और एडीजीपी से सवाल करते हुए पप्पू यादव ने कहा कि आपने तो कहा था कि रुपेश को बाहर के किसी शूटर ने गोली मारी है तो अब ये बाइक चोरी करने वाला ऋतुराज कहाँ से आ गया? रुपेश की हत्या रोडरेज के कारण नहीं हुई है. अगर ऋतुराज ने हत्या की भी है तो जरूर किसी के इशारे पर की है. पर्दे के पीछे कई बड़े लोगों का हाथ हैं.

जब ऋतुराज से पूछा गया कि हथियार कहाँ से लाए, तो उसने नहीं बताया. जब उससे पूछा गया कि आपने रुपेश की गोली मारी है क्या, तो उसने कहा कि जो एसएसपी साहब ने कहा वही सही है. साफ पता चलता है कि उसे पढ़ा-लिखा कर लाया गया था. पुलिस ने फिल्म से भी खराब पटकथा रची है. जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने उक्त बातें पटना स्थित पार्टी कार्यालय में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कही.

पप्पू यादव ने की सीबीआई जांच की मांग

सीबीआई जांच की मांग को दोहराते हुए पप्पू यादव ने कहा कि रुपेश जी के परिवार ने सीबीआई जांच की मांग की है इसलिए इस मामले की जांच सीबीआई से होनी चाहिए. मैं उच्च न्यायलय से भी आग्रह करता हूँ कि इस केस का संज्ञान ले. इंडिगो एयरलाइन्स से मेरी यह मांग की कि रुपेश जी की पत्नी को नौकरी दे और बिहार सरकार 25 लाख का मुआवजा दे.

नीतीश कुमार पर कसा तंज 

वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तंज कसते हुए पप्पू यादव ने कहा कि नीतीश कुमार के शासन में लगातार गिरावट आ रही है. कभी सोशल मीडिया पर सरकार के खिलाफ लिखने पर पाबंदी लगाई जाती है तो कभी विरोध-प्रदर्शन में शामिल होने वालों को नौकरी नहीं देने का आदेश निकाला जाता है. बिहार सरकार देश के संविधान के अनुसार काम नहीं कर रही है. ये अपना नियम खुद ही बना रहे हैं.

शांतिपूर्ण ढंग से विरोध करते रहेंगे

पप्पू यादव ने कहा कि बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर ने हमें संविधान दिया और मौलिक अधिकार दिए. जिसमें हमें विरोध-प्रदर्शन करने का अधिकार भी मिला. लोकतंत्र में हमें सड़क पर बैठने का अधिकार है. हम शांतिपूर्ण ढंग से विरोध करते रहेंगे, सरकार को लाठी-डंडा चलाना है तो चलाए. हमारी पार्टी के छात्र और युवा परिषद के नेता इसके खिलाफ लड़ाई लड़ेंगे.

85% नौकरियां युवाओं के लिए आरक्षित हो

सरकारी और निजी क्षेत्र में आरक्षण की बात करते हुए जाप अध्यक्ष ने कहा कि सरकारी हो या निजी क्षेत्र, 85 फीसदी नौकरियां बिहार के युवाओं के लिए आरक्षित होनी चाहिए. ठेके राज्य के युवाओं को मिले. वर्तमान में बाहर की कंपनियों को ठेके दिए जा रहे हैं जिससे बिहार का पैसा बाहर जा रहा है.

किसानों के समर्थन में जाप अध्यक्ष

केंद्र सरकार हमला बोलते हुए पप्पू यादव ने कहा कि यह पहली सरकार है जिसने किसानों को आतंकवादी और उग्रवादी घोषित कर दिया है और देश के टुकड़े-टुकड़े करना चाहती है. 6 फरवरी को मोदी सरकार के खिलाफ और किसानों के समर्थन में हम एनएच पर खड़े होंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here