0Shares

Primary Teacher Recruitment Bihar : बिहार में शिक्षकों के पदों के लिये आवेदन करने वाले अभ्यार्थियों को सातवें चरण के प्राथमिक शिक्षक नियोजन के लिए फिलहाल इंतजार करना होगा। इसका कारण यह है कि प्राथमिक शिक्षक नियोजन के लिए और नियोजन इकाई से रिक्त पदों के बारे में अभी तक जानकारी नहीं मिली है। राज्य के सभी जिलों से इसकी लिस्ट प्राथमिक शिक्षा निदेशालय को भेजी जानी थी। रिक्त पदों का आंकड़ा भेजने के लिए 30 जून तक जिलों को डेडलाइन दी गयी थी, लेकिन ये काम अब तक काम पूरा नहीं हो पाया है।

Primary Teacher Recruitment Bihar

Also Read : बिहार में सरकारी शिक्षकों के स्थानांतरण संबंधित नियमों में बदलाव

Primary Teacher Planning Bihar : जुलाई के आखिर तक यह काम पूरा हो सकने की संभावना

प्राप्त जानकारी के मुताबिक जुलाई के आखिर तक यह काम पूरा हो सकने की संभावना है। पहले के शेड्यूल के मुताबिक, रोस्टर क्लीयंस करने की आखिरी तारीख 15 जुलाई तक थी, लेकिन इस समय सीमा के भीतर अब काम नहीं हो सकेगा। इससे सातवें चरण की नियुक्ति प्रक्रिया में देरी होगी। साथ ही हर नियोजन इकाई खाली पदों के बारे में लिस्ट एनआईसी वेबसाइट पर अपलोड भी की जानी है। इसमें भी विलंब हो सकता है। पहले 25 जुलाई तक एनआईसी पोर्टल पर डाटा अपलोड करने की डेडलाइन जारी की गयी थी।

वहीं, दूसरी ओर नियुक्ति को लेकर शिक्षक अभ्यार्थियों का इंतजार बढ़ता जा रहा है। नियोजन इकाई से रिक्त पदों का आंकड़ा नहीं मिल पाने से एक बार फिर दूसरी तारीख मिल सकती है। शिक्षा विभाग की तरफ से पहले जारी पत्र के मुताबिक जुलाई के अंतिम तक नियुक्त संबंधित विज्ञापन जारी करने की बात कही गई थी, जबकि अब कहा जा रहा है कि छठे चरण में कुल 90,700 पदों में से लगभग 45,000 पद रिक्त रह गए हैं। इस बार सातवें चरण की नियुक्ति के लिए विद्यालयवार रिक्त पदों की संख्या की 31 मार्च तक गणना की जा रही थी। अब शिक्षा विभाग निर्धारित करेगा कि उसे नियुक्ति के लिए कितने सीटों पर अभ्यार्थियों से आवेदन लेना है।

Leave a comment

Your email address will not be published.