पटना सहित दानापुर मंडल के सभी स्टेशनों पर अब यात्रियों को प्लेटफार्म टिकट के लिए अब 50 रुपए खर्च नहीं करनी पड़ेगी। दानापुर मंडल रेल प्रबंधक प्रभात कुमार ने यात्रियों के हित में बड़ा निर्णय लिया है। मालूम हो कि पहले प्लेटफार्म टिकट के लिए 50 रुपये तक लिए जा रहे थे अब इसे घटाकर फिर से अपने पुराने दाम यानी 10 रुपये कर दिया गया है। इससे ऐसे लोगों को काफी राहत मिलेगी जो अपने सगे-संबंधियों को ट्रेन पर बैठाने के लिए प्लेटफार्म के अंदर जाते हैं।

यात्रियों को काफी राहत

इस संबंध में दानापुर के मंडल रेल प्रबंधक प्रभात कुमार ने बताया कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए स्टेशन पर जुटने वाली भीड़ को नियंत्रित करने के लिए प्लेटफार्म टिकट का दाम 10 रुपये से 50 रुपये कर दिया गया था। अब जब कोरोना संक्रमण कम हो गया है तो यात्रियों की मांग पर प्लेटफार्म टिकट को फिर से दस रुपये कर दिया गया है। इससे वरिष्ठ नागरिकों के साथ ही यात्रियों को काफी राहत मिलने लगेगी।

साफ-सफाई पर विशेष ध्यान

दानापुर मंडल की ओर से यात्री सुविधाओं के क्षेत्र में काफी कुछ किया जा रहा है। स्टेशनों की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। प्लेटफार्म को गंदा करने वालों से सख्ती से निपटने व जुर्माना करने को कहा गया है। आम यात्रियों को जागरूक करने के लिए बकायदा अभियान चलाया जा रहा है।

आय घटकर आधी से भी कम

रेलकर्मियों की मानें तो दाम कम होने के कारण पटना जंक्शन समेत तमाम स्टेशनों पर बिकने वाले प्लेटफार्म टिकट की संख्या में काफी बढ़ोत्तरी हुई है। अकेले पटना जंक्शन पर पहले प्रतिदिन 800 से 1000 टिकट की बिक्री होती थी। इससे रेलवे को 40 हजार से 50 हजार रुपये प्रतिदिन की कमाई होती थी। वहीं प्लेटफार्म टिकट के दाम कम किए जाने के बाद इसकी बिक्री लगभग दो गुनी हो गई है, मगर आय घटकर आधी से भी कम हो गई है। दाम कम होने के बाद पहले दिन लगभग 1900 यात्रियों ने प्लेटफार्म टिकट लिया, जिससे रेलवे को लगभग 19000 रुपये की कमाई हुई है।

Leave a comment

Your email address will not be published.