पटना. दिवंगत केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के अंतिम दर्शन के लिए हजारों की तादाद में लोग उनके आवास पहुंचे. इसी सिलसिले में जदयू नेता आरसीपी सिंह और एमएलसी संजीव सिंह, राजद नेता अब्दुल बारी सिद्दकी, पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय और रालोसपा प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा भी पहुंचे. इनके अलावा हाजीपुर से बड़ी संख्या में लोग पहुंचे. वहीं, सुबह-सुबह रामविलास पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी देवी भी अपने गांव से अंतिम दर्शन को पटना स्थित आवास पहुंचीं. जहां वह रामविलास पासवान के शव को देखकर फुट-फुट कर रोने लगी.

1983 में पासवान ने की थी दूसरी शादी
बता दें कि रामविलास पासवान की पहली शादी 1960 में खगड़िया की ही रहने वाली राजकुमारी देवी से हुई थी. इसके बाद 1981 में राजकुमारी देवी को तलाक देने की बात उन्होंने खुद कही थी. इसके बाद 1983 में पासवान ने रीना शर्मा से दूसरी शादी की. जिनसे उन्हें एक बेटा और एक बेटी हैं. बेटा चिराग पासवान लोजपा के अध्यक्ष हैं और जमुई से सांसद हैं. वहीं, राजकुमारी देवी खगड़िया के शहरबन्नी गांव में ही रहती हैं.

ये भी पढ़ें.राजकीय सम्मान के साथ रामविलास पासवान को दी जाएगी आखिरी विदाई, चिराग पासवान देंगे मुखाग्नि

3 अक्टूबर को किया गया था ऑपरेशन
दरअसल बीते कुछ महीनों से रामविलास पासवान की सेहत में लगातार गिरावट आ रही थी और दिल्ली के एक प्राइवेट अस्पताल में उनके दिल का ऑपरेशन 3 अक्टूबर को देर रात किया गया था. वह 24 अगस्त के बाद से ही लगातार परेशानी में थे और पिछले कुछ हफ्तों से अस्पताल में भर्ती थे.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *