पटना. जिस रामा सिंह का विरोध रघुवंश प्रसाद सिंह आखिरी दम तक करते रहे, उस रामा सिंह की राजद में एंट्री हो गई है. तेजस्वी यादव ने बुधवार की देर रात रामा सिंह को राजद का सिबंल प्रदान किया है. जिसके साथ ही इस बाहुबली नेता की पत्नी वीणा सिंह के महनार से राजद के उम्मीदवार होने का भी रास्ता साफ हो गया है.

रामा सिंह का राजद में आना तय था
रघुवंश बाबू के निधन के साथ ही राजद में रामा का आना तय था. राजद में एंट्री मिलते ही रामा सिंह के सुर बदल गए और उन्होंने कहा कि मेरी रघुवंश बाबू के परिवार से कोई अदावत नहीं है. हम दोनों का घर भी आसपास ही है.
Get Today’s City News Updates

रामा सिंह ने कहा कि उनका परिवार हमारा समर्थन करे न करे, लेकिन जरूरत पड़ी तो हम उनके घर भी वोट मांगने जाएंगे. लोजपा के पूर्व सांसद ने कहा कि रघुवंश बाबू से हमारा राजनीतिक-वैचारिक मतभेद रहा है, क्योंकि हम दोनों एक-दूसरे के विरोधी पार्टियों में रहे हैं.

ये भी पढ़ें. नीतीश कुमार को लगा बड़ा झटका, इस नेता ने थामा LJP का दामन

रामा की पत्नी महनार से रहेगी उम्मीदवार
रामा ने साफ किया की उनकी पत्नी महनार सीट से राजद की उम्मीदवार हैं और 9 से 16 अक्टूबर के बीच महनार के लिए नामांकन दाखिल होगा. रामा सिंह ने कहा हमारे आरजेडी में आने से न सिर्फ राघोपुर, बल्कि पूरे बिहार में इसका असर होगा और बिहार में महागठबंधन की सरकार बनेगी.

दरअसल, रामा सिंह के राजद में आने का न केवल रघुवंश बाबू विरोध कर रहे थे, बल्कि उन्होंने पार्टी से नाराज होकर इस्तीफा तक दे दिया था. इसके कुछ दिन बाद ही उनका निधन हो गया था.

चुनाव को लेकर सिंबल बंटने पर जैसे ही इलाके के लोगों को रामा सिंह के राजद में आने की सूचना मिली विरोध फिर शुरू हो गया, लेकिन तेजस्वी ने इन सारी बातों को दरकिनार करते हुए रामा सिंह को राजद में शामिल करा लिया.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *