बिहार की राजधानी पटना में दिन पर दिन पर्यावरण प्रदूषण बढ़ रहा है। वायु प्रदूषण से सर्दियों के मौसम में शहर की स्थिति खराब हो जाती है। हालांकि, साफ सफाई और स्वच्छता में भी पटना की कोई खास रैंकिंग नहीं है। ऐसे में पटना नगर निगम ने अब एक नई पहल की है, जिसके तहत अब आप प्लास्टिक के पैकेट और पानी की बोतल को रिसाइकल कर पाएंगे।

आम नागरिकों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले प्लास्टिक के पानी के बॉटल, कोल्ड ड्रिंक बॉटल, जूस एवं अन्य प्रकार के चिप्स, बिस्किट के खाली पैकटों को रिसाइकिलिंग किया जाएगा। इसके लिए मौर्या लोक परिसर एवं बोरिंग रोड चौराहा पर रिवर्स वेंडिंग मशीन लगाई गई है।

पटना

पटना में पहली बार दोहरी व्यवस्था

मिली जानकारी के अनुसार एचडीएफसी बैंक एवं सीईई परियोजना के तहत पटना में पहली बार दोहरी व्यवस्था की गई है। रिवर्स वेंडिंग मशीन में दो कक्ष होंगे। दोनों कक्षों में अलग अलग सामग्री की रिसाइकलिंग की जाएगी। यह मशीन एक बार में 3000 बोतल क्रश कर रिसाईकिल कर सकती है। रिसाईकिलिंग के बाद इन हाई प्लास्टिक मेटेरियल को सेल किया जाएगा। मशीन द्वारा 3 आर (रिड्यूस, रीयूज और रिसाइकल) के तहत यह आम लोगों को रिसाइकिलिंग के लिए प्रेरित किया जाएगा।

मशीन की विशेषताएं :

मशीन डिजिटल सेंसर – आधारित सिस्टम के माध्यम से बोतल के खाली एवं भरे होने का विश्लेषण करती है।

खाली बोतल को ही मशीन द्वारा स्वीकार्य किया जाता है।

भरी हुई बोतल को मशीन अस्वीकार्य कर देती है।
बोतल स्वीकार्य करने के बाद मशीन डिस्प्ले में मोबाइल नबंर डालने एवं ग्राहको को मैसेज भेजने का ऑप्शन आता है।

कंटेनर के ¾ भरने के बाद मशीन हैंडलर को ट्रिगर मैसेज करता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.