पटनाः पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन से राज्यसभा की सीट खाली हुई थी. जिस पर उपचुनाव हो रहे हैं. नामांकन के अंतिम तारीख दिन तक भी महागठबंधन ने पूर्व डिप्टी सीएम और एनडीए कैंडिडेट सुशील कुमार मोदी के खिलाफ कोई भी उम्मीदवार नहीं दिए. जिससे आरजेडी पर सवाल खड़े हो रहे थे.

वहीं, आरजेडी का कहना है कि उपचुनाव में बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी के खिलाफ उम्मीदवार खड़ा ही नहीं करना चाहती थी, यह तो सत्ताधारी गठबंधन द्वारा फैलाया गया झूठ था. इसके पीछे का तर्क देते हुए कहा कि यह सीट रामविलास पासवान के निधन से खाली हुई है. लिहाजा इस पर सबसे अधिक अगर किसी की दावेदारी बनती है तो वह लोजपा की है.

ये भी पढ़ेंः बिगड़ी कानून व्यवस्था पर इशारो ही इशारों में नीतीश के खिलाफ बीजेपी ने खोला मोर्चा! संजय जायसवाल का पारा गरम

रीना के समर्थन में थी आरजेडी

आरजेडी प्रदेश प्रवक्ता शक्ति सिंह यादव ने न्यूज़ 18 से बातचीत में कहा कि राज्यसभा में उपचुनाव में उम्मीदवार खड़ा करने का इरादा पार्टी की तरफ से नहीं थी. उन्होंने कहा कि राजद चाहता था इस सीट पर रामविलास पासवान की पत्नी रीना पासवान एनडीए के उम्मीदवार हो और विपक्ष में होने के बावजूद महागठबंधन उनको समर्थन देकर एक स्वस्थ लोकतंत्र की परंपरा का निर्वहन करता. लेकिन, बीजेपी ने इस सीट को उसने अपने खाते में रखी.

Get Daily City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here