पटना: राष्ट्रीय छात्र एकता संघ के द्वारा 11 सूत्री मांगों को लेकर महा आंदोलन की शुरुआत हो चुकी है.छात्रों का कहना है कि बस 5% बहाली ही मेरिट पर होती है बाकी सारी बहालियों के लिए RCP टैक्स देना पड़ता है. उनकी मांग है कि बिहार दरोगा बहाली के पीटी एवं मुख्य एग्जाम में धांधली की सीबीआई जांच करवाई जाए.

मांग को लेकर महा आंदोलन की शुरुआत पटना साइंस कॉलेज से किया गया जिसे प्रशासन द्वारा गांधी मैदान स्थित जेपी गोलंबर पर बैरिकेडिंग कर रोक दिया गया पर छात्र इतने उग्र थे कि वो अपनी मांगों को लेकर डंटे रहे. छात्रों को पीछे नहीं हटते देख प्रशासन द्वारा शख्ती दिखाई गई और बल प्रयोग कर उन्हें वहां से हटाया गया, प्रदर्शन कर रहे छात्रों में तीन को पुलिस ने हिरासत में लिया है.

क्या अब इस देश में लोकतंत्र नहीं बचा है:छात्र नेता

गिरफ्तार हुए छात्र नेता दिलीप ने गिरफ्तारी के वक़्त मीडिया से कहा कि हम लोकत्रांतिक तरीके से सरकार के सामने अपनी बात रखना चाहते हैं और पुलिस हमें अरेस्ट कर रही है. इसके लिए हम तैयार है क्या अब इस देश मे लोकतंत्र नहीं बच गया है??हमें प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं दी जाती है. पुलिस को हमें अरेस्ट करने के लिए कहा गया लेकिन हमारी मांगो को पूरा कर दीजिए. उन्होंने कहा आप हमें अरेस्ट कर लीजिए लेकिन छात्रों के साथ न्याय कर दीजिए. साथ ही उन्होंने पुलिस से निवेदन किया कि छात्रों पे डंटे न बरसाए जाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here